DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फर्जी मुठभेड़: वन अधिकारियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा

उत्तराखंड में देहरादून और हरिद्वार जिले में फैले राजाजी राष्ट्रीय उद्यान में परसों हुई मुठभेड़ में मारे गए कथित तस्कर बाबू लाल के परिजनों द्वारा राजाजी पार्क के निदेशक व रेजर के विरुद्ध हत्या का मुकदमा कायम किया गया है।

गौरतलब है कि राजाजी राष्ट्रीय उद्यान में 20 अक्टूबर को वन रक्षकों ने एक मुठभेड़ में वन तस्कर गिरोह के कथित सदस्य बाबू लाल को मार गिराने का दावा किया था। जिसके बाद बाबू लाल के घर वालों ने रानीपुर थाने में प्रदर्शन कर वन विभाग के अधिकारियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा कायम कराने की मांग की थी।

सूत्रों के अनुसार वन विभाग के अधिकारियों को सूचना मिली थी कि बुधवार की रात कुछ तस्कर पार्क की होलरकण्ड रेंज में कोई वारदात करने की फिराक में हैं। वन कर्मियों का कहना है कि तसकरों द्वारा उन पर हमला किया गया जिसकी जवाबी कार्रवाई में एक तस्कर की मौत हो गई। जिसकी शिनाख्त डोईबाला के पास रहने वाले बाबू लाल के रुप में हुई थी।

बाद में डोईवाला के ग्रामीणों ने रानीपुर थाने में प्रदर्शन कर वन विभाग के अधिकारियों के विरुद्ध मुकदमा वापस कराने की मांग की थी। ग्रामीणों के प्रदर्शन के बाद पुलिस ने उद्यान के निदेशक एस एस रसायली रेंजर जयपाल एवं अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा कायम किया है। दूसरी तरफ वन विभाग द्वारा दस अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फर्जी मुठभेड़: वन अधिकारियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा