DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रकृति की सेहत के आंकलन के लिए भी बना सेंसेक्स

प्रकृति की सेहत के आंकलन के लिए भी बना सेंसेक्स

शेयर बाजार की सेहत मापने के लिए बनाए गए सूचकांकों की तर्ज पर प्रकृति की सेहत का पता लगाने के लिए एक नया सूचकांक बनाया गया है। यह कारनामा कर दिखाया है नार्वे की सरकार ने। उसका दावा है कि दुनिया में यह अपने किस्म का पहला ऐसा सूचकांक है जो पर्यावरण पर आर्थिक विकास के पड़ने वाले प्रभावों के आंकलन के साथ ही जैव विविधता कें संरक्षण के लिए भी काफी कारगर होगा।

इस सूचकांक को नेचर इंडेक्स ऑफ नार्वे का नाम दिया गया है। इसे संयुक्त राष्ट्र की ओर से अगले सप्ताह जापान में आयोजित किए जाने वाले जैव विविधता सम्मेलन में पेश किया जाएगा। नार्वे का कहना है कि इस सूचकांक में 309 संकेतक शामिल किए गए हैं जिनके आधार पर प्रकृति की सेहत को नापा जाएगा।

नार्वे के पर्यावरण मंत्री हेदी सोयरेनसन ने कहा कि इस सूचकांक का इस्तेमाल कर देश में जंगल, नदियों, पहाड़ों, जीव जंतुओं यहां तक की पौधों में परागण प्रक्रिया तक की स्थिति का पता लगाया जा सकता है। सोयरेनसन ने कहा कि हालांकि यह समस्या से निबटने का कोई तरीका नहीं सुझाता लेकिन इसके आधार पर आगे योजनाएं बनाने और उन्हें क्रियान्वित करने में बहुत मदद मिलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रकृति की सेहत के आंकलन के लिए भी बना सेंसेक्स