अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली विश्व मुक्केबाजी सीरीज से बाहर, इंचियोन शामिल

दिल्ली विश्व मुक्केबाजी सीरीज से बाहर, इंचियोन शामिल

विश्व मुक्केबाजी सीरीज में दिल्ली को कोई प्रायोजक नहीं मिलने के कारण अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एबा) ने गुरुवार को दिल्ली के साथ करार रद्द करके फ्रेंचाइजी दक्षिण कोरिया के इंचियोन शहर को दे दी।

एबा ने एक बयान में कहा कि इंचियोन रेडविंग्स विश्व मुक्केबाजी सीरीज के एशियाई जोन में दिल्ली फ्रेंचाइजी की जगह लेगा। इंचियोन रेडविंग्स की टक्कर एस्टाना अर्लांस, द बाकू फायर्स और द बीजिंग ड्रैगंस से होगी। मुकाबले नवंबर से शुरू हो जाएंगे।

दक्षिण कोरिया का शहर इंचियोन अब विश्व सीरीज में उतरेगा। विश्व मुक्केबाजी सीरीज ने दिल्ली फ्रेंचाइजी के साथ करार रद्द करने का फैसला किया है। यह फैसला भारत में मुक्केबाजी समुदाय में घरेलू राजनीतिक समस्याओं के कारण लिया गया।

एबा के संचार निदेशक पाल ओनील ने बताया कि प्रायोजन अहम पहलू था। हम लंबे समय से भारतीय मुक्केबाजी महासंघ के जवाब का इंतजार कर रहे थे लेकिन जवाब नहीं मिला। उनके लिए समय सीमा तय थी जो पिछले सप्ताह खत्म हो गई।

भारतीय फ्रेंचाइजी दिल्ली टाइगर्स को पिछले महीने करारा झटका लगा जब उसके मुख्य प्रायोजक वीडियोकान ने अपरिहार्य कारणों का हवाला देकर हाथ खींच लिया। इसके बाद से महासंघ कहता आया है कि उसे नया प्रायोजक मिल जाएगा।

भारतीय टीम में ओलंपिक कांस्य पदक विजेता विजेंदर सिंह, राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अखिल कुमार, राष्ट्रमंडल चैम्पियन दिनेश कुमार और जय भगवान और एशियाई कांस्य पदक विजेता जितेंदर कुमार के अलावा नौ अन्य मुक्केबाज थे।

इनमें से विजेंदर ने यह कहकर नाम वापिस ले लिया कि वह अमैच्योर मुक्केबाजी पर ध्यान देना चाहता है। वहीं, वीडियोकान के पीछे हटने के बाद बाकियों को सूचित कर दिया गया कि उनके अनुबंध रद्द हो गए हैं।

टीम के लिए जर्मन कोच मिकरे वोल्फ की भी सेवायें ली गई थी लेकिन वीडियोकान के चले जाने के बाद यह सब बेमानी हो गया। सीरीज के मुख्य संचालन अधिकारी इवान खुदाबख्श ने कहा कि यह काफी कठिन फैसला था। सत्र शुरू होने में एक ही महीना रह गया है और यह जरूरी था।

इंचियोन को अब वे सभी अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज मिलेंगे जिनके साथ दिल्ली ने 19 नवंबर से शुरू हो रहे इस टूर्नामेंट के लिए अनुबंध किया था। एआईबीए ने कहा कि इंचियोन शहर और नए अध्यक्ष सांग सू अहन के नेतृत्व में कोरियाई एमेच्योर मुक्केबाजी महासंघ ने इंचियोन रेडविंग्स को पूरा समर्थन दिया है और अब यह फ्रेंचाइजी उन सभी अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजों को ले लेगी जिनके साथ पहले दिल्ली फ्रेंचाइजी ने अनुबंध किया था।

एआईबीए ने कहा कि इंचियोन रेडविंग्स डब्ल्यूएसबी के नियमों के तहत दक्षिण कोरिया के अपने राष्ट्रीय मुक्केबाजों को भी शामिल करेगा। इसमें कहा गया, मुक्केबाजों के साथ अनुबंध और स्टेडियम समझौते के बारे में आगे की घोषणाएं अगले दो सप्ताह में होने की उम्मीद है। नई टीम के लिए एक प्रायोजक भी ढूंढा जा रहा है।

भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने कहा कि प्रायोजन मुख्य मुद्दा था और आईबीएफ अपनी फ्रेंचाइजी के लिए प्रायोजक नहीं जुटा पाई। एक अधिकारी ने कहा कि प्रायोजन मुद्दा थी और इसलिए हमने फ्रेंचाइजी खो दी। इसमें कोई अन्य मुद्दा शामिल नहीं है।

बारह शहर आधारित फ्रेंचाइजी टीमों वाली डब्ल्यूएसबी चैंपियनशिप तीन क्षेत्रों एशिया, अमेरिका और यूरोप में खेली जाएगी। इसमें पांच भार वर्ग 54 किलो, 61 किलो, 73 किलो, 85 किलो और 91 से अधिक किलो के मुक्केबाज शामिल किए गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली विश्व मुक्केबाजी सीरीज से बाहर, इंचियोन शामिल