DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसीएईआर ने आर्थिक वृद्धि का अनुमान बढाकर 8. 4 प्रतिशत किया

कृषि उत्पादन में इस साल  वृद्धि की उम्मीद को देखते हुये आर्थिक थिंक टेंक नेशनल काउंसिल आफ एप्लायड इकनोमिक रिसर्च (एनसीएईआर) ने चालू वित्त वर्ष के लिये देश की आर्थिक वृद्धि का अनुमान पहले के 8.1 प्रतिशत से बढ़ाकर 8.4 प्रतिशत कर दिया।
   
एनसीएईआर ने अर्थव्यवस्था की समीक्षा के अपने नवीनतम तिमाही अंक में कहा है अर्थव्यवस्था के वृहद आंकलन के आधार पर चालू वित्त वर्ष 2010-11 में देश की आर्थिक वृद्धि 8. 4 प्रतिशत रहने का अनुमान है। यह हमारे जुलाई में लगाये गये अनुमान 8.1 प्रतिशत से अधिक है।

   
एनसीएईआर की रिपोर्ट के अनुसार आर्थिक वृद्धि का नया बढा अनुमान पूरी तरह से कषि क्षेत्र में अधिक उत्पादन अनुमानों की वजह से है। कृषि और संबंधित क्षेत्रों के लिये जीडीपी वृद्धि का ताजा अनुमान 6. 6 प्रतिशत है। जबकि इससे पहले जुलाई में कृषि क्षेत्र में 4. 6 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान था।

   
रिपोर्ट के अनुसार चालू वित्त वर्ष में उद्योग क्षेत्र की वृद्धि 8. 8 प्रतिशत और सेवा क्षेत्र का विस्तार 8. 7 प्रतिशत रहने का अनुमान है।  रिजर्व बैंक ने जुलाई में मौद्रिक नीति की पहली समीक्षा में 2010-11 की आर्थिक वृद्धि दर 8. 5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था।
   
समाप्त वित्त वर्ष 2009-10 में देश की जीडीपी वृद्धि 7. 4 प्रतिशत रही है। चालू वित्त वर्ष में इसके 8. 5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया जा रहा है। यहां तक कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिह ने भी चालू वित्त वर्ष में 8. 5 प्रतिशत आर्थिक वृद्धि रहने का अनुमान व्यक्त किया है। बहरहाल, जून 2010 में समाप्त इस साल की पहली तिमाही में आर्थिक वृद्धि 8. 8 प्रतिशत रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनसीएईआर ने आर्थिक वृद्धि का अनुमान 8. 4 प्रतिशत किया