DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आपस में सुलह करें बीसीसीआई और मोदीः सुप्रीम कोर्ट

आपस में सुलह करें बीसीसीआई और मोदीः सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के निलंबित कमिश्नर ललित मोदी और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को आपसी सुलह से विवादों का हल निकालना चाहिए।

मोदी ने उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच कर रही बीसीसीआई की अनुशासन समिति के पुनर्गठन की मांग करते हुए उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की है। न्यायालय ने इस याचिका पर विशेष सुनवाई में कहा कि मोदी और बीसीसीआई को इस मामले को आपसी समझौते से सुलझाना चाहिए। न्यायालय ने साथ ही कहा कि दोनों पक्षों को 27 नवंबर तक सौहार्दपूर्ण हल निकाल लेना चाहिए अन्यथा उसे इस मुद्दे को सुलझाने के लिए कदम उठाना होंगे।

उल्लेखनीय है कि बांबे उच्च न्यायालय ने अनुशासन समिति के पुनर्गठन की मांग वाली मोदी की याचिका को खारिज कर दिया था जिसके बाद मोदी ने उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है। मोदी की दलील है कि अनुशासन समिति के दो सदस्य अरुण जेटली और चिरायु अमीन उनसे दुराग्रह रखते है इसलिए उन्हें समिति से हटा दिया जाना चाहिए और उनके खिलाफ आरोपों की जांच के लिए उच्चतम या उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश की अध्यक्षता में समिति बनाई जानी चाहिए।

मोदी पर मारीशस की कंपनी डब्ल्यूएसजी को आईपीएल के प्रसारण अधिकार 425 करोड़ रुपये में बेचने के लिए 125 करोड़ रुपये रिश्वत लेने का आरोप है। बीसीसीआई के सचिव एन श्रीनिवासन की पहल पर मोदी के खिलाफ चेन्नई में एक प्राथमिकी भी दर्ज की जा चुकी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आपस में सुलह करें बीसीसीआई और मोदीः सुप्रीम कोर्ट