अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खाद्य मुद्रास्फीति घटकर 15.53 प्रतिशत

खाद्य मुद्रास्फीति घटकर 15.53 प्रतिशत

खाद्य मुद्रास्फीति 9 अक्टूबर को समाप्त हफ्ते में एक सप्ताह पूर्व की तुलना में 0.8 अंक घटकर 15.53 प्रतिशत रह गयी। यह जानकारी गुरुवार को जारी सरकारी विज्ञप्ति में दी गयी है। इससे पूर्व के सप्ताह में खाद्य मुद्रास्फीति 16.37 प्रतिशत थी।

साल दर साल के आधार पर आलोच्य सप्ताह में आलू की कीमतों में 50 प्रतिशत जबकि प्याज के भाव में 8.62 प्रतिशत की कमी आयी है। हालांकि अनाज, दूध और फल आदि के दाम ऊंचे बने हुए हुए थे।

विशेषज्ञों के मुताबिक खाद्य वस्तु बाजार पर बेहतर मानसून का प्रभाव धीरे-धीरे दिखने लगा है। बेहतर फसल होने से आपूर्ती में सुधार हुआ है और खाद्य मुद्रास्फीति का दबाव कम हुआ है।

इस दौरान सलाना आधार पर आनाज के दाम 5.88 प्रतिशत, दालें 4.44 प्रतिशत ऊंची रहीं। इसी प्रकार से गेहूं और चावल के कीमतों में भी क्रमश: 7.01 प्रतिशत तथा 4.72 प्रतिशत की तेजी दिखी।

आलोच्य सप्ताह के दौरान दूध और फल के दाम पिछले साल इसी सप्ताह की तुलना में क्रमश: 21.65 प्रतिशत और 15.65 प्रतिशत ऊंचे थे। सब्जियों के दामों में तेजी बरकरार रही और सालाना आधार पर इसमें 12.26 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई।

जुलाई में कुछ गिरावट के बाद अगस्त और सितंबर के दौरान खाद्य मुद्रास्फीति फिर चढ़ने लगी थी। इस दौरन भारी बारिश आदि के कारण आपूर्ति पर असर पड़ा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खाद्य मुद्रास्फीति घटकर 15.53 प्रतिशत