अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्कस ने दी सरकार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी

सर्व कर्मचारी संघ (सर्कसं) ने राज्य सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए आंदोलन की चेतावनी दी है। सर्कसं नेताओं का कहना है कि 23-24 अक्टूबर को भिवानी की राजपूत धर्मशाला में होने वाले दो दिवसीय कार्यकर्ता सम्मेलन में आंदोलन की रणनीति तय की जाएगी।


संघ के अध्यक्ष ताराचंद और सचिव देवी सिंह बेचैन ने संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री से कई बार कर्मचारी समस्याओं को लेकर वार्ता हो चुकी है, लेकिन अभी तक उस पर कोई विचार नहीं किया गया है। उक्त नेताओं ने कहा कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री से बातचीत में सभी विभागीय कर्मचारियों की वेतन बिसंगतियों को दूर करने,केंद्र सरकार के अनुसार ग्रेड पे 3200 से बढ़ाकर 4200 करने, अनुबंध, डेलीवेजिज, पार्टटाइम, आउटसोर्सिग आदि के आधार पर रखे गये कर्मचारियों को नियमित करने,  महंगाई के अनुसार नियमित वेतन बढ़ाकर दस हजार रुपए करने, आंगनबांड़ी, आशा वर्कर, मिड-डे-मिल वर्करों को सरकारी कर्मचारी घोषित करने सहित करीब 25 मुद्दों पर चर्चा हुई थी। सरकार ने अधिकतर जायज मांगों पर विचार कर शीघ्र लागू करने का भरोसा दिया था, पर अभी तक अमल नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि 23-24 अक्टूबर को भिवानी में होने वाली दो दिवसीय कार्यकर्ता सम्मेलन में आंदोलन की रणनीति तैयार की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सर्कस ने दी सरकार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी