अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सितंबर से उड़ान में विलंब से 56,000 से अधिक यात्री प्रभावित

सितंबर से उड़ान में विलंब से 56,000 से अधिक यात्री प्रभावित

सितंबर में 56,000 से अधिक यात्रियों को या तो विमान में चढ़ने से रोक दिया गया या विमान निरस्त किए जाने या उड़ान में विलंब से उनका कार्यक्रम प्रभावित हुआ।

 एक आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, पहली बार कुछ विमानन कंपनियों ने प्रभावित यात्रियों को किराए की रकम वापस की या उड़ान का समय बदले जाने पर यात्रियों को चाय नाश्ता उपलब्ध कराया।

आंकड़ों के मुताबिक, दो घंटे से अधिक उड़ान में विलंब के चलते 48,000 से अधिक यात्री प्रभावित हुए। इनमें एयर इंडिया के 21,767 यात्री, जबकि किंगफिशर एयरलाइन्स के 16,727 यात्री शामिल हैं।
   
वहीं, स्पाइसजेट की उड़ान में विलंब के चलते 4,139 यात्री प्रभावित हुए, जबकि जेट एयरवेज के ऐसे यात्रियों की संख्या 2,692 रही।
   

किंगफिशर ने यात्रा में खलल के चलते प्रभावित यात्रियों को 13.69 लाख रुपये, जबकि जेट-जेट लाइट ने ऐसे यात्रियों को 18.54 लाख रुपये रिफंड दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उड़ान में विलंब से 56,000 से अधिक यात्री प्रभावित