DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

44 लाख के टेंडर के लिए दबंगई

डीआरएम ऑफिस में 44 लाख के टेंडर के लिए एक बार फिर खूनी संघर्ष होते-होते बचा। मंगलवार को वरीय मंडल विद्युत अभियंता (टीआरडी) कार्यालय में एक पक्ष के गुर्गो ने एक संवेदक पर टेंडर नहीं डालने का दवाब बनाया। जब संवेदक ने टेंडर डालने की जिद की तो गुर्गो ने न सिर्फ उन्हें डराया-धमकाया बल्कि बदसलूकी भी की।

भुक्तभोगी संवेदक अनिल झा ने सुबोध सिंह के खिलाफ धनबाद थाना में लिखित शिकायत दर्ज कराई है। मंगलवार की सुबह करीब 10.45 बजे गुर्गो व संवेदक के बीच चल रही इस गुत्थमगुत्थी को देखकर वहां तैनात आरपीएफ के जवानों ने बीच-बचाव किया। बाद में संवेदक ने टेंडर पेपर को बाक्स में डाला।

इस बात की जानकारी जब डीआरएम आनंद सागर उपाध्याय को मिली तो उन्होंने फौरन इसकी सूचना कमांडेंट व सदर थाने को दी। फिर 10 मिनट के अंदर पूरा डीआरएम कार्यालय पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। आरपीएफ के जवानों के साथ डीएसपी संजय रंजन व इंस्पेक्टर एमएल भार्गव के नेतृत्व में सदर थाने के एक दजर्न जवान डीआरएम कार्यालय पहुंच गए। हालांकि इस बीच गुर्गे मौका देखकर वहां से फरार हो गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:44 लाख के टेंडर के लिए दबंगई