DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंड पुलिस महानिरीक्षक यौन शोषण के दोषी, बर्खास्तगी आसन्न

झारखंड पुलिस महानिरीक्षक यौन शोषण के दोषी, बर्खास्तगी आसन्न

झारखंड में रांची के तत्कालीन पुलिस महानिरीक्षक पी एस नटराजन को आदिवासी बाला और संदिग्ध नक्सली सुषमा बड़ाइक का यौन शोषण करने का दोषी पाया गया है। इस मामले में तीन साल से निलंबित चल रहे नटराजन के जल्दी ही सेवा से बर्खास्त कर दिये जाने की संभावना है।

झारखंड के आधिकारिक प्रवक्ता ने यहां बताया कि पुलिस महानिदेशक नेयाल अहमद ने अपनी जांच में रांची के तत्कालीन पुलिस महानिरीक्षक पी एस नटराजन को अपने पद का दुरुपयोग कर सुषमा बड़ाइक का लगातार यौन शोषण करने का दोषी पाया है।

पुलिस महानिदेशक ने अपनी रिपोर्ट गृह विभाग को भेज दी है और इस रिपोर्ट में उन्होंने नटराजन को बर्खास्त करने की अनुशंसा की है।

वर्ष 1973 बैच के आई़ पी़ एस़ पी एस नटराजन 2005 में उस समय सुषमा बड़ाइक नामक इस आदिवासी बाला के यौन शोषण के आरोपों में घिर गये थे जब एक स्टिंग आपरेशन में वह रंगे हाथ पकड़े  गये थे। इसके बाद उन्हें निलंबित कर मामले की जांच प्रारम्भ की गयी थी।

गृह विभाग ने नटराजन से इस मामले में उनकी अंतिम सफाई मांगी है। इस बारे में नटराजन ने कहा है कि वह जल्द ही इस मामले में अपनी सफाई गृह विभाग को भेज देंगे। उन्होंने अपने पहले के जवाब में कहा था कि सुषमा बड़ाइक ने सहमति से उनके साथ यौन संबंध बनाये थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:झारखंड पुलिस महानिरीक्षक यौन शोषण के दोषी, बर्खास्तगी आसन्न