अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईरान को परमाणु हथियारों की जरूरत नहीं: पाकिस्तान

ईरान को परमाणु हथियारों की जरूरत नहीं: पाकिस्तान

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा कि ईरान को परमाणु हथियारों की जरूरत नहीं है और उसे अपने परमाणु कार्यक्रम पर बातचीत के अमेरिका के प्रस्ताव को स्वीकर करना चाहिए।

ईरान के परमाणु कार्यक्रम के बारे में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने सोमवार को कहा कि वह क्षेत्र में एक और बड़ा संकट टालना चाहते हैं।

हार्वर्ड विश्वविद्यालय में उन्होंने कहा मुझे लगता है कि उनके पास परमाणु कार्यक्रम पर आगे बढ़ने का कोई औचित्य नहीं है।

कुरैशी ने कहा कि ईरान को कौन धमकी दे रहा है। मुझे नहीं लगता कि ईरान को कोई धमकी मिली है। उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि पाकिस्तान ने प्रौद्योगिकी के असैन्य इस्तेमाल के ईरान के अधिकार को स्वीकार किया है।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा कि उन्होंने ईरान में अपने समकक्ष मनोचहर मोत्ताकी से बातचीत की और उनसे कहा कि वह अमेरिका-ईरान संबंधों में बरसों से चल रहे तनाव को दूर करने के लिए वार्ता करने की अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की इच्छा को मान लें।

कुरैशी ने कहा कि इस प्रशासन ने पेशकश की है जिसका लाभ उठाना चाहिए। ईरान के प्रशासन के साथ पाकिस्तान के दोस्ताना लेकिन जटिल संबंध हैं। दोनों देशों के बीच फैले बलूचिस्तान प्रांत में सुन्नी और शियाओं के बीच गुटीय हिंसा चलती रहती है।

जून माह में पाकिस्तान और ईरान ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे जिसमें इस्लामाबाद ने तेहरान को पाइपलाइन से गैस बेचने की प्रतिबद्धता जताई थी। अमेरिका ने इस परियोजना के खिलाफ चेतावनी दे दी क्योंकि वाशिंगटन ने ईरान के परमाणु कार्यक्रम को लेकर उस पर प्रतिबंध और कड़े कर दिए थे।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने तब कहा था कि इस्लामाबाद ईरान पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को लागू करेगा लेकिन एकपक्षीय अमेरिकी प्रतिबंध नहीं लागू करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ईरान को परमाणु हथियारों की जरूरत नहीं: पाकिस्तान