DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कल कार्य बहिष्कार करंगे वकील

झारखंड राज्य बार कौंसिल के निर्देश पर 23 जनवरी को राज्य के सभी वकील अदालती कार्य का बहिष्कार करंगे। इस दिन हाइकोर्ट, लोअर कोर्ट, उपभोक्ता फोरम सहित किसी भी फोरम में वकील बहस करने नहीं जायेंगे। केंद्र सरकार द्वारा सीआरपीसी के सेक्शन 30एवं 50 में संशोधन किये जाने के खिलाफ यह निर्णय लिया गया है। केंद्र सरकार ने इन सेक्शन में संशोधन कर यह प्रावधान किया है कि सात साल से कम की सजा वाले मामले में आरोपियों को थाना से ही बेल दे दी जायेगी। वकील इसका विरोध कर रहे हैं।ड्ढr कौंसिल के चेयरमैन पीसी त्रिपाठी ने बताया कि राज्य बार कौंसिल ने आपात बैठक बुलाकर 23 जनवरी को कार्य बहिष्कार का निर्णय लिया है। उन्होंने सभी वकीलों से इसमें सहयोग करने की अपील की है।ड्ढr आज मिलेगा नये वकीलों को लाइसेंसड्ढr रांची। झारखंड राज्य बार कौंसिल 22 जनवरी को 130 नये वकीलों को लाइसेंस देगा। लाइसेंस वितरण समारोह का आयोजन कौंसिल के डोरंडा कार्यालय में 4.30 बजे शुरू होगा। समारोह की मुख्य अतिथि चीफ जस्टिस ज्ञान सुधा मिश्र होंगी। हाइकोर्ट के दो नये जजों ने शपथ लीरांची। झारखंड हाइकोर्ट के दो नये जजों ने 21 जनवरी को शपथ ली। चीफ जस्टिस ज्ञान सुधा मिश्र ने जस्टिस प्रशांत कुमार एवं जस्टिस प्रदीप कुमार को शपथ दिलायी। इसके पूर्व रािस्ट्रार जेनरल ने राष्ट्रपति द्वारा इनकी नियुक्ित के लिए जारी किया गया वारंट पढ़कर सुनाया।ड्ढr शपथ लेने के बाद दोनों जजों ने अदालत की कार्यवाही में भी हिस्सा लिया। जस्टिस आरके मेरठिया के साथ जस्टिस प्रशांत कुमार एवं जस्टिस एनएन तिवारी के साथ जस्टिस प्रदीप कुमार कोर्ट में बैठे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कल कार्य बहिष्कार करंगे वकील