DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रौढ़ महिलाओं के लिए ठीक नहीं इंटरनेट का चस्का

प्रौढ़ महिलाओं के लिए ठीक नहीं इंटरनेट का चस्का

पीठ के तेज दर्द से परेशान प्रौढ़ महिलाओं को सावधान हो जाना चाहिए। एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि इस उम्र में ऐसे दर्द का कारण इंटरनेट हो सकता है।

ब्रिटिश अनुसंधानकर्ताओं ने एक अध्ययन के बाद निष्कर्ष निकाला है कि बड़ी संख्या में प्रौढ़ महिलाएं अपना ज्यादातर समय फेसबुक, टि्वटर जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर बिताती हैं और घंटों कंप्यूटर के आगे बैठे रहने की वजह से उन्हें पीठ में तेज दर्द होने लगता है।

इसके लिए अनुसंधानकर्ताओं ने ब्रिटेन में 35 साल से 50 साल तक की उम्र वाली 1,000 महिलाओं से बातचीत की। उन्होंने पाया कि 78 फीसदी महिलाएं पीठ के तेज दर्द से पीड़ित थीं क्योंकि वह लंबा समय नेट पर या मेज पर काम करते हुए बिताती थीं। शेष 18 फीसदी को हर दिन पीठ में थोड़ा बहुत दर्द सहना पड़ता था।

एक तिहाई महिलाओं ने माना कि उन्हें कुछ दिनों के अंतराल में तकलीफ होती है। एक चौथाई महिलाओं ने कहा कि उन्हें सप्ताह में या महीने में एक बार दर्द होता है। 44 फीसदी महिलाओं को चलने में तकलीफ होती थी। 15 फीसदी महिलाओं का काम के लिए जाना ही मुश्किल था। डेली एक्सप्रेस में फिजियोथेरेपिस्ट के हवाले से कहा गया है पीठ का दर्द तेज हो सकता है और जीना मुश्किल हो सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रौढ़ महिलाओं के लिए ठीक नहीं इंटरनेट का चस्का