DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वायु सेना के पूर्व कर्मी ने की आत्महत्या

अकेलेपन और वृद्धावस्था की बीमारियों से दुखी होकर वायु सेना से सेवानिवृत्त एक बुजुर्ग ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
सुसाइड नोट में बुजुर्ग रामशंकर ने अपनी बीमारियों और अकेलेपन का जिक्र किया है। वैसे उनके दो बेटे और तीन बेटियां हैं जो दूसरे शहरों में रहते हैं। 74 साल के रामशंकर यहां अकेले रहते थे।

पुलिस प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि बर्रा पांच इलाके में रहने वाले रामशंकर वायु सेना के सेवानिवृत्त कर्मी थे। वह यहां अकेले रहते थे और मोहल्ले के बच्चों को ट्यूशन पढ़ाकर अपना समय काट रहे थे। वह पिछले काफी दिनों से बीमार थे और अपना इलाज करा रहे थे।

उन्होंने बताया कि कल शाम जब वह बच्चों को पढ़ाने नहीं निकले तो बच्चे उनके घर आ गये और उन्होंने दरवाजा अंदर से बंद पाया। बच्चों ने जब खिड़की से झांका तो उनका शव एक रस्सी के फंदे से लटकता मिला। उन्होंने इसकी सूचना पड़ोसियों को दी और उसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर शव को नीचे उतारा।

पुलिस के अनुसार शव के पास से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें लिखा है कि वह अपनी बीमारियों और अकेलेपन से परेशान हैं। दवायें खाते खाते परेशान हो गये हैं और कोई फायदा नहीं हो रहा है। वह अपनी जिंदगी से दुखी होकर यह कदम उठा रहे हैं। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है और परिजनों को सूचित कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वायु सेना के पूर्व कर्मी ने की आत्महत्या