DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीछे नहीं रहना चाहते भारत, चीन: ओबामा

पीछे नहीं रहना चाहते भारत, चीन: ओबामा

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अमेरिका को भारत व चीन जैसे देशों से मुकाबला करना होगा जो किसी पीछे नहीं रहना चाहते। उनका कहना है कि अमेरिका शिक्षा बजट में कटौती को सहन नहीं कर सकता। ओबामा ने फिर कहा है कि वह विदेशों में काम करवाने वाली कंपनियों को कर छूट नहीं देना चाहते।

ओबामा यहां गवर्नर डेवल पेट्रिक के समर्थन में चुनाव रैली को संबोधित करने आये थे। उन्होंने कहा कि विपक्षी रिपब्लिकन पार्टी शिक्षा खर्च में 20 प्रतिशत की कटौती चाहते हैं ताकि 700 अरब डॉलर की कर छूटों के भुगतान में मदद मिल सके। उन्होंने कहा कि इस तरह की छूट का फायदा के अमेरिका की सबसे धनी आबादी को ही मिलेगा जिसकी आबादी केवल दो प्रतिशत है।

उन्होंने कहा कि रिपब्लिकन पार्टी को भले ही शिक्षा खर्च में कटौती का विचार बहुत अच्छा लगता हो लेकिन भारत तथा चीन देशों को नहीं। उन्होंने कहा कि हम ऐसा अमेरिका चाहते हैं जिसके हर नागरिक में दुनिया के किसी भी कामगार से प्रतिस्पर्धा कनने की क्षमता और हुनर हो।

विपक्षी दल को भले शिक्षा खर्च में 20 प्रतिशत कटौती अच्छा विचार लगता हो लेकिन आपको नहीं लगेगा। आप जानते हैं कि और कौन इसे अच्छा विचार नहीं मानता है चीन, दक्षिण कोरिया, जर्मनी तथा भारत। नवंबर में होने वाले चुनाव से पहले की इस रैली में लगभग 8,000 लोग मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पीछे नहीं रहना चाहते भारत, चीन: ओबामा