अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएड की प्रवेश प्रक्रिया पूरी फिर भी नए कॉलेज लाइन में

बीएड सत्र 2010 की प्रवेश प्रक्रिया अफरा-तफरी और छात्रों में निराशा के बीच शनिवार को पूरी हो गई। फिर भी नए बीएड कॉलेजों के आने का सिलसिला नहीं थम रहा है। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक तीन दजर्न से ज्यादा कॉलेज मान्यता की लाइन में हैं। लगातार लेट हो रहे सत्र के बावजूद एक और काउंसिलिंग की तैयारी है। अब अगले सत्र को लेकर सवाल भी खड़े हो रहे हैं। इन सब सवालों के बीच एलॉटमेंट प्रक्रिया के आखिरी दिन आवेदकों के हाथ निराशा ही लगी। अफरा-तफरी के बीच देर शाम तक एलॉटमेंट का दौर जारी रहा। 1700 आवेदकों को सीट की जगह निरस्तीपत्र मिला। विवि प्रशासन के मुताबिक काम के दिनों में आने वाले आवेदकों को निर्धारित अवधि तक एलॉटमेंट लेटर मिलेगा।
बीएड काउंसिलिंग के बाद एलॉटमेंट प्रक्रिया के आखिरी दिन छात्रों के आक्रोश के मद्देनजर विश्वविद्यालय के यूआईईटी कैंपस में सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए थे। शनिवार सुबह 9 बजे से ही सेंटर में आने वालों को प्रवेश पत्र और निरस्तीपत्र बाँटे गए लेकिन दोपहर निरस्ती पत्र को लेकर सैकड़ों छात्र जमा हो गए। शाम तक जारी एलॉटमेंट प्रक्रिया में लगभग 500 को ही सीट हासिल हुई जबकि हजारों छात्रों में निरस्तीपत्र मिलने से निराशा का माहौल था। मौके पर जिला प्रशासन के अधिकारियों ने भी व्यवस्था का जायजा लिया। साथ ही आक्रोशित छात्रों को शांत कराया गया। कुल मिलाकर अफरा-तफरी के बीच छात्र लौटे। सूत्रों के मुताबिक एलाटमेंट प्रक्रिया पूरी होने के बावजूद काउंसिलिंग का दौर खत्म होता नजर नहीं आ रहा है। शासन स्तर से तीन दजर्न से ज्यादा बीएड कालेजों को मान्यता दी जा रही है। इनके लिए लखनऊ विश्वविद्यालय स्तर से एक और काउंसिलिंग की कवायद की जा सकती है। वहीं छात्र एक बार फिर तय फीस देकर अपना भाग्य आजमा सकेंगे। विश्वविद्यालय प्रशासन के मुताबिक प्रत्येक छात्र को एलॉटमेंट लेटर उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए छुट्टी के बाद भी सुविधा मिलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीएड की प्रवेश प्रक्रिया पूरी