DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयोजन स्थलों पर चौकसी बढ़ाई गई

दशहरे पर भारी भीड़ होने की संभावना के मद्देनजर रामलीला मैदानों में पुलिस बल बढ़ा दिया गया है। दावा है कि चप्पे-चप्पे पर पुलिस मुस्तैद रहेगी। इस दौरान सुरक्षा इंतजामों को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के लिए प्राइवेट सुरक्षाकर्मियों के साथ-साथ सिविल डिफेंस और एसपीओ की भी मदद ली जाएगी।


एक अनुमान के मुताबिक रामलीला मैदानों पर रावण दहन देखने के लिए पांच लाख से भी ज्यादा लोग पहुंचेंगे। किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए पुलिस व फायर विभाग पूर्ण रूप से तैयार है। प्रत्येक रामलीला मैदानों और आयोजन स्थलों पर अस्थाई पुलिस बूथ बनाए गए हैं जिससे वहां पर तैनात पुलिसकर्मी इमरजेंसी से फौरन निपट सके। आयोजन स्थलों के मेन गेट पर मेटल डिटेक्टर भी लगाए गए हैं और सुरक्षाकर्मी हैंड मेटल डिटेक्टर से भी कार्यक्रम देखने आए लोगों की तलाशी लेंगे। पुलिस व फायर अधिकारियों का दावा है कि वे हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। किसी भी दर्शक को सुरक्षा की दृष्टि से कोई भी परेशानी नहीं होगी। चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। इतना ही नहीं पुलिस अधिकारियों ने लोगों से अपील की है कि वे दशहरे पर अपने घर से बाहर निकलें और रावण वध देखने आयोजन स्थल तक बेखौफ होकर जाएं, पुलिस हमेशा उनकी सुरक्षा के लिए तत्पर है।
-------
यहां होगी कड़ी चौकसी
-घंटाघर रामलीला मैदान
-इंदिरापुरम शक्तिखंड-4
-कविनगर रामलीला मैदान
-राजनगर रामलीला मैदान
-संजय नगर सेक्टर-23
-ब्रिज विहार सी और डी ब्लाक
--------
सुरक्षा के इंतजाम-
सभी आयोजन स्थलों पर 100-100 पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे। सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं। प्रवाइवेट एक हजार सुरक्षाकर्मी, वालेंटियर्स की संख्या करीब 800 जिसमें सिविल डिफेंस के भी लोग शामिल हैं। प्रत्येक थाना क्षेत्रों में पहले से नियुक्त एसपीओ अपने-अपने इलाके के आयोजन स्थलों के सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेंगे। सभी आयोजन स्थलों पर सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे, जिनकी कनेक्टिविटी आयोजन स्थलों पर बने अस्थाई पुलिस कंट्रोल रूम से होगी। एसएसपी रघुवीर लाल ने बताया कि सभी आयोजन स्थलों की सीधी मॉनीटरिंग संबंधित इलाके के डीएसपी करेंगे और उसकी सीधी रिपोर्ट एसएसपी को भेजी जाएगी। क्यूआरटी की टीम इलाकों में गश्त लगाती रहेगी।
---------
फायर के पुख्ता इंतजाम-
चीफ फायर ऑफिसर वीरेंद्र सिंह पांडे का कहना है कि आयोजन स्थलों पर दमकल की गाड़ियां खड़ी रहेंगी। साथ ही बालू और पानी के पहले से इंतजाम हर एक आयोजन स्थल पर किए गए हैं। दमकलकर्मी रविवार को रावण दहन के वक्त तैनात रहेंगे और दमलकर्मी जायजा लेते रहेंगे। रावण दहन के हर क्षण पर उनकी पैनी नजर रहेगी। आयोजकों को खास निर्देश दिए गए हैं कि रावण के पुतले की 10 मीटर की परिधि को खाली रखना है और वहां घेरा लगा दिया जाए जिससे पब्लिक पुतले के पास तक न पहुंच सकें।
---------
चेन झपटमारी व अन्य वारदातों से कैसे बचें
महिलाएं व युवतियां आयोजन स्थलों पर सजग रहें। किसी भी अजनबी से बातचीत न करें। किसी भी अप्रिय घटना के बाद फौरन अस्थाई कंट्रोल रूम को या 100 नंबर डायल कर फोन पर पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दें। छोटे बच्चों को गोद में लिए रहें या उनके हाथ पकड़े रहें। बच्चों के गायब होने पर पुलिस कंट्रोल रूम या आयोजकों के पास मौजूद माईक से एनाउंसिंग करा दें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आयोजन स्थलों पर चौकसी बढ़ाई गई