DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सभी जिला मुख्यालयों में खुलेगा ओल्ड एज होम: प्रधान

राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में सरकार ओल्ड एज होम (वृद्ध आश्रम) खोलने पर विचार कर रही है। इस आशय का प्रस्ताव जल्द ही मंत्रिमंडल के समक्ष लाया जाएगा। साथ ही कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रवास (वर्किग वूमन हॉस्टल) बनाने की भी योजना है।

राज्य की समाज कल्याण व पर्यटन मंत्री विमला प्रधान ने शुक्रवार को यहां ‘हिन्दुस्तान’ के साथ विशेष बातचीत में यह जानकारी दी। मंत्री बनने के बाद प्रधान पहली बार अपने विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर पहुंची हैं। मंत्री ने कहा कि सूबे में रांची, टाटा जैसे बड़े शहरों में तो ओल्डऐज होम है। छोटे शहरों में यह नहीं है। इसस वृद्धों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। विभाग ने अब सभी जिला मुख्यालयों में वृद्ध आश्रम (ओल्ड एज होम) खोलने का फैसला किया है। इस आशय का प्रस्ताव वे जल्द ही सरकार को देंगी।

प्रधान ने कहा कि महिलाओं के कल्याण और विकास के लिए सरकार की कई योजनाएं चल रही है, इनका सख्ती से अनुपालन कराया जाएगा। कामकाजी महिलाओं के लिए हर जिले में छात्रवास बनाने का प्रस्ताव भी वे सरकार को देंगी। आए-दिन डायन-बिसाही के आरोप में महिलाओं की हत्या को उन्होंने काफी गंभीर बताया। साथ ही कहा कि इसकी रोकथाम के लिए समाज के सभी वर्गो को आगे आना होगा। डायन-बिसाही पर रोक लगाने के लिए जागरूकता जरूरी है।

सिमडेगा जिले में बिजली आपूर्ति की दयनीय स्थिति को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बीरु में विद्युत सबग्रिड का निर्माण जारी है। इसमें तेजी लाई जाएगी। वहीं ट्रांसमिशन लाइन का निर्माण को शीघ्र पूरा कराया जाएगा। ग्रामीण विद्युतीकरण के तहत गांवों में बिजली पहुंचाई जाएगी। इसके लिए उन्होंने सीएम से बात भी की है।

एक अन्य सवाल के जवाब में प्रधान ने कहा कि राज्य में करीब 38432 आंगनबाड़ी केंद्र हैं। यह सरकार की सबसे छोटी इकाई है। इस सुदृढ़ किया जाएगा। दुर्गा पूजा के बाद वे विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षात्मक बैठक करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सभी जिला मुख्यालयों में खुलेगा ओल्ड एज होम: प्रधान