DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मस्ती दोनों ही रंग एक साथ

शहर में जगह-जगह लगे पूजा पंडालों में मां दुर्गा की भक्ति के साथ मौज-मस्ती के रंग में साफ नजर आ रहे हैं। भक्तजन सुबह जहां माता की भक्ति में लीन दिखते हैं वहीं दोपहर बाद मस्ती के रंग में रंग जाते हैं। बच्चों के साथ बड़े भी इन आयोजन में शामिल होकर उनके साथ बच्चाे बनकर धूम मचाते दिखते हैं। 


शुक्रवार को शिप्रा सनसिटी में लगे पूजा पंडाल का नजारा देखने लायक था। कहने को तो ये मां का दरबार था, लेकिन यहां चल रही फिल्मी गानों की अंताक्षरी में बच्चाों के साथ बड़े भी मस्ती के रंग में डूबते दिखे। करीब दो घंटे चले इस आयोजन का लोगों ने जमकर लुत्फ उठाया। इसके साथ यहां पर चल रहे प्रसाद वितरण में सभी लोगों ने लाइन में लगकर प्रसाद का आनंद लिया। कमेटी के अध्यक्ष अमिताभ मजूमदार ने बताया कि दुर्गा मां के दरबार में आए सभी भक्तजन एक समान हैं। चाहे कोई कितना भी बड़ा अधिकारी या अफसर क्यूं न हो उसे प्रसाद लेने के लिए लाइन के लगना ही पड़ता है।
वहीं दूसरी ओर वैशाली सेक्टर-4 में चल रही दुर्गा पूजा में संध्या आरती का अलग नजारा देखने को मिला। यहां पर शुक्रवार को हुई आरती ढ़ाक (ढ़ोल) की ताल पर की गई, जिससे भक्तिमय वातावरण में उत्साह की लहर दौड़ गई। इसको बजाने का जिम्मा स्वयं पुरोहित ने ही उठाया। आरती के बाद हुए फैंसी ड्रेस कॉम्प्टीशन व तारे जमीं पर मयूजिकल प्ले के दौरान बच्चाों की धमाचौकड़ी अपने शबाब पर दिखी , जिससे पंडाल का माहौल भक्तिमय होने के साथ खुशनुमा हो गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मस्ती दोनों ही रंग एक साथ