DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहर पार किसानों ने मुआवजा लेना किया शुरू

नहर पार किसानों का गुस्सा धीरे-धीरे शांत होता जा रहा है। हड़ताल वापस लेने के बाद किसान मुआवजा लेने के लिए भूमि अजर्न शाखा के चक्कर काटने लगे हैं। शुक्रवार तक नहर पार के करीब 90 किसान 50 करोड़ रुपये तक का मुआवजा ले चुके हैं। भूमि अजर्न अधिकारियों का मानना है कि काफी संख्या में किसान मुआवजा लेने के लिए आवेदन कर चुके हैं, जल्द ही उन्हें मुआवजा दे दिया जाएगा।


उल्लेखनीय है कि नहर पार क्षेत्र में विकसित किए जा रहे ग्रेटर फरीदाबाद के करीब 2 हजार किसानों की जमीन मास्टर रोड के लिए अधिग्रहित की गई। लेकिन इसी बीच किसानों ने मुआवजा राशि का विरोध करना शुरू कर दिया और अपनी विभिन्न मांगों को लेकर धरने पर आकर बैठ गए। किसानों ने भूख-हड़ताल करके अपना आंदोलन चलाया। लेकिन कुछ समय पहले किसानों ने जिला उपायुक्त के आश्वासन के बाद अपना आंदोलन वापस ले लिया। इसके बाद से किसान मुआवजा लेने के लिए भूमि अजर्न शाखा के चक्कर काटने लगे हैं। शुक्रवार को किसानों की अच्छी खासी भीड़ लगी रही। भूमि अजर्न शाखा में तैनात कर्मचारी भी किसानों की मदद करने से पीछे नहीं रहे। वे लंच के समय भी किसानों के चेक बनवाने में व्यस्त रहे। बुढ़ैना से आए एक किसान ने बताया कि उन्हें भूमि अजर्न शाखा का पूरा सहयोग मिल रहा है। यहां किसी प्रकार की उन्हें कोई दिक्कत नहीं। नहर पार के किसानों को कुल मुआवजा 605 करोड़ रुपये दिया जाना है। इसमें से करीब 50 करोड़ रुपये का मुआवजा किसान ले जा चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहर पार किसानों ने मुआवजा लेना किया शुरू