DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नवाबों के शहर से शुरू हुई क्रिकेट-विश्वकप ट्राफी की यात्रा

भारतीय उपमहाद्वीप में अगले साल फरवरी में शुरू होने वाले क्रिकेट विश्वकप टूर्नामेंट की चमचमाती रिलायंस मोबाइल ट्राफी का गुरुवार को लखनऊ में प्रदर्शन किया गया। मुम्बई में अनावरण के बाद देश के विभिन्न स्थानों पर अपने प्रदर्शन के सफर के पहले पड़ाव के तहत विश्वकप ट्राफी को लखनऊ लाया गया।

सोने और चांदी से बनी इस ट्राफी की बनावट वर्ष 2007 की विश्वकप ट्राफी जैसी ही है। बांग्लादेश की राजधानी ढाका में अगले साल 19 फरवरी से शुरू होने जा रहे विश्वकप टूर्नामेंट के पूर्व रिलायंस कम्युनिकेशंस द्वारा आयोजित यह कार्यक्रम भारत में इस ट्राफी के पूर्वावलोकन की शुरुआत है। विश्वकप के मैच बांग्लादेश के अलावा भारत और श्रीलंका में भी आयोजित होंगे।
 
वर्ष 1983 की विश्वविजेता भारतीय क्रिकेट टीम के अहम सदस्य रहे मदन लाल ने ट्राफी प्रदर्शन के मौके पर कहा कि मौजूदा टीम इंडिया के पास विश्वकप खिताब जीतने का सबसे अच्छा मौका है। उन्होंने कहा कि भारत पिछले 27 वर्षों से एकदिवसीय मैचों का विश्वकप नहीं जीत सका है लेकिन इस बार उम्मीद है कि भारत वर्ष 1983 के इतिहास को दोहराएगा।

लखनऊ के मेयर दिनेश शर्मा ने इस मौके पर कहा हम खुशनसीब है कि विश्वकप की ट्राफी के सफर की शुरुआत लखनऊ से हो रही है। हमारी दुआ है कि यह ट्राफी लौटकर भारत की झोली में ही आए।

रिलायंस कम्युनिकेशंस के उत्तर प्रदेश तथा उत्तराखंड क्षेत्र के प्रमुख सलीम हक ने इस अवसर पर कहा इस ट्राफी को देश के विभिन्न स्थानों की यात्रा के पहले पड़ाव के तहत लखनऊ लाया गया है। हम सौभाग्यशाली हैं कि हम इसें इतनी नजदीक से देख पा रहे हैं।

रिलायंस कम्युनिकेशंस के उपाध्यक्ष अविनाश जैन ने कहा कि रिलायंस देश में खेलों को पहले भी बढ़ावा देता रहा है और इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए बार भी वह क्रिकेट विश्वकप टूर्नामेंट के सभी मैचों को प्रमोट करेगा। इस अवसर पर अपर पुलिस महानिदेशक एके जैन तथा पूर्व ओलम्पियन आरपी सिंह भी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नवाबों के शहर से शुरू हुई क्रिकेट-विश्वकप ट्राफी की यात्रा