DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मलेरिया, वायरल, डेंगू बुखार का प्रकोप

शहर में वायरल, मलेरिया और डेंगू बुखार का प्रकोप जोरों पर है और सारे सरकारी और प्राइवेट अस्पताल रोगियों से भरे पड़े है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कह रहे है कि हम एलर्ट तो है लेकिन बहुत परेशान नहीं है क्योंकि स्थिति अभी बेकाबू नही हुई है।

पिछले एक हफ्ते से शहर के सरकारी अस्पतालों तथा प्राइवेट नसिग होम्स में लगातार बुखार के रोगियों का आना जारी है। बुखार के रोगियों की संख्या इतनी अधिक हो गयी है कि कुछ नर्सिंग होम्स ने तो अपने यहां बिस्तर न होने और हाउसफुल का बोर्ड लगा दिया है।

शहर के मुख्य चिकित्साधिकारी [सीएमओ] डा अशोक मिश्रा ने माना कि शहर में बुखार का प्रकोप जोरों पर है। इसमें मलेरिया, वायरल और डेंगू के रोगियों की संख्या सर्वाधिक है। पिछले कुछ समय में डेंगू के 59 मरीज सरकारी अस्पतालों में आये हैं जिनमें से 16 मरीज कानपुर जिले के हैं। बाकी मरीज अन्य जिलों के है। वह कहते है कि डेंगू के अधिकतर मरीज प्राइवेट अस्पतालों में जा रहे है जहां के डाक्टर अपने यहां का रिकार्ड स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध नहीं कराते हैं, इसलिये सही आंकड़ा सामने नही आ पा रहा है।

उन्होंने माना कि शहर के नर्सिंग होम्स में हालात ज्यादा खराब है और वहां डेंगू के रोगियों की संख्या ज्यादा है, लेकिन सहीं आकड़ा बता पाने में स्वास्थ्य विभाग असमर्थ है। शहर में डेंगू और अन्य बुखार बढ़ने का कारण वह इस बार हुई ज्यादा बारिश को मानते है। क्योंकि बारिश का पानी लोगों के घरों में जाने अनजाने कही न कही जमा है। इसी कारण उनमें डेंगू का मच्छर पनप रहा है और लोग डेंगू के शिकार हो रहे है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मलेरिया, वायरल, डेंगू बुखार का प्रकोप