DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीजीएफ प्रमुख फेनेल ने कहा, बेहद सफल रहे दिल्ली खेल

सीजीएफ प्रमुख फेनेल ने कहा, बेहद सफल रहे दिल्ली खेल

समय पर स्टेडियम तैयार नहीं होने, खेल गांव की गंदगी और अन्य विपरीत कारणों से प्रमुख देशों के हटने की धमकी के बावजूद बेहद सफल रहे राष्ट्रमंडल खेलों की किसी और ने नहीं बल्कि खुद सीजीएफ प्रमुख माइकल फेनेल ने जमकर तारीफ की।

राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के प्रमुख ने खेलों के अंतिम दिन गुरुवार को यहां कहा कि दिल्ली खेल बेहद सफल रहे और खेलों की पूर्ण छवि काफी सकारात्मक रही। फेनेल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि खेलों को लेकर तमाम रिपोर्टों के कारण इन खेलों से पहले लोग भारत आने को लेकर सुनिश्चित नहीं थे। जब मैं 23 सितंबर को भारत आ रहा था तो मुझसे यह तक पूछा गया कि मैं कब खेलों के रद्द होने की घोषणा करूंगा।

उन्होंने कहा कि मैंने कहा कि हमारा काम समस्या का समाधान करना है। तब जबकि मुझसे संवाददाता सम्मेलन में पूछा गया था कि क्या हमारे पास कोई प्लान बी भी है तो मैंने कहा था कि प्लान बी भी दिल्ली है। हम शुरू से ही दिल्ली में खेलों के आयोजन को लेकर आश्वस्त थे और दिल्ली ने सफल खेलों का आयोजन किया।

सीजीएफ प्रमुख ने यह मानने से इमकार कर दिया कि खेलों से जुड़े विवादों के कारण खेलों की अखंडता प्रभावित हुई है। उन्होंने कहा कि इसमें संदेह नहीं कि खेलों की संपूर्ण छवि काफी अच्छी रही। दर्शकों ने इसका मज़ा लिया और प्रसारण शानदार रहा। दुनिया भर के लोगों में खेलों को लेकर बहुत सकारात्मक छवि रही है।

फेनेल ने कहा कि खेलों से जुड़े कई मसले रहे जिनमें सुरक्षा भी शामिल है लेकिन आखिर में परिणाम शानदार रहा। मुझे नहीं लगता कि जो कुछ हुआ उससे खेलों की छवि खराब हुई है। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों से मिला फीडबैक अच्छा है जबकि कुछ स्टेडियम और खेल गांव बेजोड़ था। फेनेल ने कहा कि अभी इस पर टिप्पणी करना जल्दबाजी होगी। हम बाद में इसका विस्तत आकलन करेंगे। खिलाड़ियों ने अच्छी तरह से प्रतियोगिताओं में भाग लिया और उन्होंने यहां सहज महसूस किया।

सीजीएफ प्रमुख ने कहा कि एक दो घटनाओं को छोड़कर यह काफी संतोषप्रद अनुभव रहा। कुछ स्टेडियम बेजोड़ थे। कुछ उच्च स्तर के थे। इनमें उच्च स्तर की प्रतिस्पर्धाएं हुई। खेलों से पहले मीडिया के निशाने पर रहे सुरेश कलमाड़ी ने कहा कि खेलों को लेकर दुनिया की आशंका समापत हो गई।

कलमाड़ी ने कहा कि पूरे खेल खिलाड़ियों के इर्द गिर्द आगे बढ़ते हैं और उन्होंने यहां पूरा मज़ा लिया। वे यहां के भोजन, खेल गांव और हर चीज़ से खुश थे। उन्होंने यहां रहने का पूरा लुत्फ उठाया। जब वे वापस जाएंगे तो भारत से बहुत अच्छी यादें लेकर जाएंगे।

उन्होंने कहा कि भारत ने भी बहुत अधिक पदक जीते। हम मेलबर्न से लगभग दोगुने पदक जीतने में सफल रहे। इसलिए भारतीय ओलंपिक संघ का अध्यक्ष होने के नाते यह देश में ओलंपिक खेलों के लिए बहुत अच्छा रहा। कलमाड़ी ने कहा कि खेलों के दौरान 75 से अधिक रिकॉर्ड टूटे। मैंने कहा था कि इसमें नये चैंपियन उभर कर आएंगे और ऐसा हुआ। भारत को भी खेलों के कुछ नये आइकन मिले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीजीएफ प्रमुख फेनेल ने कहा, बेहद सफल रहे दिल्ली खेल