DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में विकास व युवाओं की लड़ाई लड़ रही कांग्रेस: राहुल

कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस विचारधारा तथा बिहार के विकास एवं युवाओं के भविष्य के लिए ही अपने बलबूते पर विधान सभा का चुनाव लड़ रही है।

गांधी ने जिले के कोढ़ा विधानसभा क्षेत्र में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 20 वर्षों में जात-पात की राजनीति के कारण बिहार का विकास रूक गया है। क्योंकि यहां की सरकार ने जाति और धर्म का समीकरण बनाकर लोगों को बांटने का काम किया। उन्होंने कहा कि हम विचाराधारा की लड़ाई लड़ रहे हैं और सभी जाति-धर्म को एकजुट रखकर विकास की योजनाएं बना रहे है।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि बिहार के लोगों में कोई कमी नहीं है। लेकिन यहां हाल के वर्षों में बनी सरकार की अदूरदर्शिता के कारण आज यहां के लोगों को रोजीरोटी के लिए बाहर जाना पड़ता है। वहां वे उन प्रदेशों को सजाने संवारने का काम तो करते हैं, लेकिन जब बिहार में रहते हैं तो उनके हाथ यहां की सरकारें बांध कर रखती है। उन्होंने कहा कि बिहार में आज बिजली, पानी और सड़क की स्थिति अच्छी नहीं हैं।

गांधी ने कहा कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गांरटी योजना विश्व की सबसे बड़ी योजना है जिसका लाभ अन्य प्रदेश के लोगों को मिल रहा है। वहीं बिहार सरकार की उदासीनता के कारण यहां के लोग इसके लाभ से वंचित है। उन्होंने कहा कि केन्द्र प्रायोजित योजनाओं के साथ बिहार में खिलवाड़ हो रहा है। पिछले छह वर्षों में केन्द्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार ने बिहार को एक लाख
करोड़ से अधिक की राशि विकास कार्यों के लिए दी है। लेकिन राशि बिचौलियों की भेंट चढ़ गई।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि ऐसी ही स्थिति गरीबों के लिए भेजे गए राशन का है। जो राशन गरीबों के घर में होना चाहिए वह उनके पास नहीं पहुंचता है। उन्होंने बिना मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का नाम लेकर कहा कि बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन [राजग] की सरकार साझा सरकार है, लेकिन वह अपने एक साझेदार के दो बड़े नेताओं को बिहार में नहीं आने देती है। उन्होंने कहा कि हमें समझ में नहीं आता है कि यह कैसी साझेदारी है।

गांधी ने कहा कि बिहार और उत्तर प्रदेश ने आजादी के बाद देश को नेतृत्व देने का काम किया तथा दूसरे प्रदेशों को रास्ता दिखाया। लेकिन जातपात की राजनीति के कारण बिहार भटक गया है। उन्होंने कहा कि किसान देश के रीढ़ की हड्डी है जो हमें भोजन देते है। इसलिए हमारी सरकार ने किसानों के कर्ज को माफ किया, लेकिन बिहार में किसानों को इसका फायदा नहीं मिला।

कांग्रेस महासचिव ने यह भी कहा कि आज बिहार के लोगों की स्थिति यह हो गई है कि महाराष्ट्र जैसे प्रदेशों में उन्हे अपमानित किया जाता है और अपमानित करने वाले वही लोग है जिनके साथ बिहार में गठबंधन की सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि उद्देश्यों की पूर्ति में हमें देरी लग सकता है, लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा और हम अपने मिशन में लगे रहेंगे। गांधी ने कहा कि कांग्रेस की जब-जब सरकार बनी है, देश में प्रगति और विकास हुआ है।

उन्होंने कहा कि जब 2004 में केन्द्र में कांग्रेसनीत सरकार बनी तब से विकास के कई कार्य किए गए। उन्होंने कहा कि केन्द्र की कांग्रेस सरकार किसी भी राज्य सरकार के साथ कोई भेदभाव नहीं करती है। सभा को संबोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री और बिहार मामलों के प्रभारी मुकुल वासनिक ने कहा कि बिहार में गरीबों, दलितों और नौजवानों के उत्थान के लिए उनकी पार्टी कृतसंकल्प है। उन्होंने कहा कि बिहार विधान सभा का चुनाव परिणाम यहां के राजनीति को ऐतिहासिक मोड़ देगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में विकास की लड़ाई लड़ रही है कांग्रेस: राहुल