DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनावी रंजिश में युवक की हत्या कर शव दफनाया

गाँव में प्रचार करते वक्त एक युवक को अगवा करउसकी हत्या कर दी गई। हत्यारों ने दुस्साहस दिखाते हुए शव को दफना दिया। गिरवा और अतर्रा थाने की पुलिस 36 घंटे तक सीमा विवाद में उलङी रही। मृतक के घरवालों की तहरीर पर अतर्रा पुलिस पहुँची तो मामला गिरवाँ थाने का पाया गया। एसपी के आदेश पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस का कहना है कि हत्यारोपियों की गिरफ्तारी शीघ्र ही कर ली जाएगी।


गिरवाँ थाना क्षेत्र के गोखियाँ गाँव निवासी राजेश विश्वकर्मा (18) पुत्र कल्लू विश्वकर्मा 10 अक्तूबर को गाँव के ही एक प्रधान पद के प्रत्याशी का प्रचार कर रहा था। शाम को वह घर नहीं लौटा। घरवालों ने काफी तलाश की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। मंगलवार को युवक का शव गिरवा थाना क्षेत्र के बहेरीहार गाँव में बरामद हुआ। खेत में काम करने गईं महिलाओं ने शव देखा तो इसकी सूचना घरवालों को दी। गाँव के लोगों ने थानाध्यक्ष गिरवाँ को घटना की जानकारी दी। थानाध्यक्ष गिरवाँ ने अतर्रा थाने का मामला बताया और मौके पर नहीं गए। मंगलवार को दिन भर शव खेत में ही पड़ा रहा। युवक के मुँह में कपड़ा ठूंसा गया था तथा बदन पर घाव के निशान थे। वह शव को घसीटकर घटनास्थल से पचास मीटर दूर ग्रामसभा की भूमि पर ले गए। गड्ढा खोदने के बाद शव को दफना दिया।
थानाध्यक्ष पीके सिंह हमराहियों के साथ बुधवार की शाम को घटनास्थल पर पहुँचे। इसीबीच ग्रामीणों ने मामले की जानकारी नवागत एसपी अनिल दास को दी। एसपी के आदेश पर गिरवाँ थाने की पुलिस भी पहुँची। मामला गिरवाँ थाने का होने पर अधिकारियों ने थानाध्यक्ष को कड़ी फटकार लगाई। थानाध्यक्ष गिरवाँ की कारगुजारी के कारण शव कई घंटे तक पड़ा रहा। मृतक के घरवालों ने घटना की तहरीर थाने में दी है। सीओ नरैनी गजेंद्र सिंह का कहना है कि युवक की हत्या की गई है। उसके शरीर पर चोट के निशान भी देखे गए हैं। हत्यारोपियों की तलाश शीघ्र ही कर ली जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चुनावी रंजिश में युवक की हत्या कर शव दफनाया