DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनिमिया से बचाव

क्या खुद को आप खुद को थका हुआ महसूस करते हैं? क्या हर वक्त मुंह या गला सूखा सा लगता है? फिर यह आशंका भी हो सकती है कि आप एनिमिक हों। पर यकीन मानिए आप अकेले ऐसे नहीं हैं। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के सर्वे के मुताबिक लगभग 30 प्रतिशत भारतीय रक्त की कमी से पीड़ित हैं। 
एनिमिया का साधारण सा कारण है - खून की कमी। दूसरे कारण शरीर में फॉलिक एसिड और विटामिन बी-12 की कमी, महिलाओं में माहवारी के दौरान अत्यधिक रक्तस्नव और मलेरिया जैसे रोगों से ग्रस्त होना। बढ़ते बच्चों, युवतियां, गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाएं, ब्लड डोनर और ऐसे लोग जिन्हें गैस्ट्रो-इन्टेसटीनल समस्या हो (जिसमें खाने से जरूरी तत्व शरीर नहीं ले पाता) उनमें सबसे ज्यादा खतरा होता है। अगर आप भी इनमें से  हैं तो आयरन युक्त आहार लेना शुरू करें।
- अपने खाने में आंवले-पुदीने की चटनी शामिल करें। साग, सलाद पर नींबू का रस डालना न भूलें। ताजा संतरे का रस लें। अंडे और टोस्ट का नाश्ता आयरन बढ़ाने में मदद करता है।
- स्नेक्स के शौकीन हैं तो भुने चने और गुड़ खाइए यह शरीर में हीमोग्लोबिन बनाते हैं। गुड़ का इस्तेमाल करें।
- मांसाहारी लोग मीट में बीन्स व मटर डालकर खाएं तो बेहतर होगा। ड्राई फूट्स आयरन से भरपूर एक हेल्दी स्नैक्स है। 
- कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें खाने से शरीर में आयरन की कमी होती है। जैसे- इमली, हल्दी, कोल्ड-ड्रिंक्स, कॉफी और चाय। इस सब में टैनीन नामक पदार्थ पाए जाते हैं जो शरीर को आयरन सोखने में रोकते हैं। अगर यह ज्यादा मात्रा में लिया जाए तो व्यक्ति एनिमिक हो सकता है।
- आप शाकाहारी हैं तो फिर भी चिंता की बात नहीं। विटामिन सी वाली चीजें ज्यादा खाएं जैसे आंवला, अमरूद और नींबू। यह शरीर में आयरन सोखने की मात्रा बढ़ाता है।
- शरीर को नई रक्त कोशिकाओं को बनाने के लिए फोलेट की जरूरत पड़ती है। यह फोलेट हमें हरी सब्जियां, बिना पॉलिश की हुई चावल, साबुत अनाज, नट्स और अंगूर से मिलती हैं।
- लोहे के बर्तन में बनाई गई हरी सब्जियों में ज्यादा आयरन होता है जो हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है। मीट, मछली, अंडे, शेलफिश और डेयरी उत्पादों में बी-12 भरपूर मात्रा में होता हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनिमिया से बचाव