DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेंसेक्स 484 अंक चढ़कर 33 माह के नए शीर्ष पर

सेंसेक्स 484 अंक चढ़कर 33 माह के नए शीर्ष पर

वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार की बढ़ती उम्मीदों और स्थानीय कंपनियों के बेहतर तिमाही परिणाम की संभावना के बीच विदेशी संस्थागत निवेशकों का पूंजी प्रवाह बढ़ने से बुधवार को बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स ने 484 अंक की छलांग लगाई और यह 33 माह के नए उच्च स्तर पर पहुंच गया।

     
पिछले छह माह में यह पहला मौका है, जब एक कारोबारी दिन में सेंसेक्स में इतनी ज्यादा तेजी देखने को मिली है।
     
तीस शेयरों वाला सेंसेक्स 484. 54 अंक या 2. 4 प्रतिशत की बढ़त के साथ 20,687. 88 अंक के स्तर पर पहुंच गया। यह 14 जनवरी, 2008 के बाद सेंसेक्स का सबसे उंचा स्तर है। उस समय सेंसेक्स 20,728. 05 अंक पर बंद हुआ था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 143 अंक की बढ़त के साथ 6,233.90 अंक पर पहुंच गया।

    
अमेरिका में ब्याज लोन और सस्ता किए जाने की संभावनाओं से भी भारत जैसे बाजारों के प्रति निवेशकों का उत्साह बढ़ा है। कल बाजार 137 अंक गिरकर बंद हुआ था। कारोबार के दौरान एक समय सेंसेक्स 500 अंक की बढ़त के साथ 20,703 अंक के स्तर पर पहुंच गया था। पिछले छह माह में किसी एक कारोबारी दिवस में यह सेंसेक्स की सबसे ज्यादा बढ़त है। इससे पहले 10 मई, 2010 को सेंसेक्स 561 अंक चढ़ा था।
    
ब्रोकरों का कहना है कि अन्य एशियाई बाजारों की तुलना में भारतीय शेयर बाजारों का प्रदर्शन सबसे अच्छा है। आज दलाल पथ पर आईटी शेयरों का जलवा रहा। इन्फोसिस का शेयर 2. 57 प्रतिशत चढ़ गया। टीसीएस के शेयर में पांच फीसद की तेजी आई, जबकि विप्रो का शेयर 3. 69 फीसद बढ़ा।
     
देश में कोल इंडिया के आईपीओ के लिए आकर्षक मूल्य से भी कारोबारी धारणा मजबूत हुई। सरकार ने मंगलवार को कोल इंडिया के आईपीओ के लिए 225 से 245 रुपये प्रति शेयर का मूल्य दायरा तय किया है।

ब्रोकरों ने कहा कि चीन, जापान और आस्ट्रेलिया से जो खबरें मिल रही हैं उनसे संकेत मिलता है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था तेजी से पटरी पर आ रही है। इसी के चलते यह लगातार 29वां दिन था जब विदेशी संस्थागत निवेशकों ने घरेलू बाजार में बिकवाली से ज्यादा शेयरों की लिवाली की।
    
रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1. 67 फीसद की बढ़त के साथ 1,072. 50 रुपये पर पहुंच गया। वित्तीय क्षेत्र के शेयर भी काफी मांग में रहे। एचडीएफसी का शेयर 4. 47 प्रतिशत चढ़ा, वहीं एचडीएफसी बैंक का शेयर 2. 52 फीसद मजबूत रहा। भारतीय स्टेट बैंक में दो प्रतिशत की मजबूती आई, आईसीआईसीआई बैंक 1. 23 प्रतिशत की बढ़त के  साथ बंद हुआ। सेंसेक्स की कंपनियों में सिर्फ एनटीपीसी का शेयर गिरावट के रुख के साथ बंद हुआ। बीएसई में सभी 13 क्षेत्रों के सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए। आईटी क्षेत्र का सूचकांक सबसे ज्यादा 3. 15 प्रतिशत की बढ़त के साथ 6,249. 20 अंक पर पहुंच गया। प्रौद्योगिकी सूचकांक 2. 72 प्रतिशत की तेजी के साथ 3,850. 36 पर पहुंच गया।
     
पूंजीगत वस्तुओं का सूचकांक 2. 68 फीसद की बढ़त के साथ 16,426. 36 अंक तथा रीयल्टी 2. 51 प्रतिशत की तेजी के साथ 3,935. 64 अंक रहा। एशियाई बाजारों में चीन का शांगहाए 0. 70 प्रतिशत बढ़ा, जबकि जापान के निक्की में 0. 16 प्रतिशत की मजबूती आई। यूरोपीय बाजार भी मजबूती के रुख के साथ खुले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सेंसेक्स 484 अंक चढ़कर 33 माह के नए शीर्ष पर