DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डोपिंग में पकड़ी गई पैदल चाल एथलीट रानी, अस्थाई निलंबन

डोपिंग में पकड़ी गई पैदल चाल एथलीट रानी, अस्थाई निलंबन

भारत की 20 किलोमीटर पैदल चाल स्पर्धा की खिलाड़ी रानी यादव डोप टेस्ट में प्रतिबंधित दवा लेने की दोषी पाई गई हैं जिसके बाद उन्हें राष्ट्रमंडल खेलों से अस्थाई रूप से निलंबित कर दिया गया है।
     
रानी यादव नौ अक्टूबर को हुई राष्ट्रमंडल खेलों की पैदल चाल स्पर्धा में छठे स्थान पर रही थी। राष्ट्रमंडल खेल महासंघ (सीजीएफ) ने एक बयान में कहा कि इस मामले की बुधवार को सीजीएफ अदालत सुनवाई की जाएगी जिसमें यह एथलीट या तो खुद हाजिर होगी या उसका कोई प्रतिनिधि सुनवाई में उपस्थित रहेगा।
     
सीजीएफ ने कहा कि अध्यक्ष माइकल फेनेल ने बुधवार सुबह संवाददाता सम्मेलन में यह घोषणा की है कि एक भारतीय एथलीट डोप टेस्ट में असफल रहा है। इसमें कहा गया कि सीजीएफ को भारतीय दल प्रमुख ने इस मामले की पुष्टि की है। सीजीएफ अब रानी यादव के इस नमूने की पुष्टि कर सकता है जिसमें वह वाडा की प्रतिबंधित दवाओं की सूची में आने वाले पदार्थ नोराड्रोस्टीरोन के सेवन की दोषी पाई गई थी।
     
सीजीएफ ने कहा कि रानी यादव को इन खेलों से अस्थाई तौर पर निलंबित किया गया है और सीजीएफ अदालत में आज होने वाली इस मामले की सुनवाई में रानी या उनका कोई प्रतिनिधि शामिल होगा। फेनेल ने बुधवार सुबह संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हमें एक और एथलीट के डोपिंग में फंसने का पता चला है। बुधवार सुबह नौ बजे भारतीय दल प्रमुख भुवनेश्वर कलिता को नोटिस जारी कर दिया गया है।
     
उधर आयोजन समिति के महासचिव ललित भनोट ने एक भारतीय एथलीट के डोपिंग में फंसने को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा कि हर किसी ने इससे बचने के लिए भरकम प्रयास किया लेकिन फिर भी यह शर्मिंदगी झेलनी पड़ रही है।
      
उन्होंने कहा कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। हमने अपने स्तर पर सबसे अच्छा प्रयास किया। न केवल संघ बल्कि राष्ट्रीय डोपिंग निरोधी एजेंसी (नाडा) और सरकारी प्राधिकरण इस मसले को लेकर काफी गंभीर थे। हमने स्पर्धा के पहले और इसके दौरान टेस्ट किए थे। भनोट ने कहा कि यह बहुत कठिन स्थिति है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है। हम मेज़बान हैं, हम सावधानियां बरत रहे हैं। लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई।
      
गौरतलब है कि 100 मीटर दौड़ में स्वर्ण पदक जीतने वाली नाइजीरियाई महिला एथलीट ओसयेमी ओलुड़ाला और वहीं के सैमुअल ओकोन के डोप टेस्ट में पकड़े जाने के बाद डोपिंग का यह तीसरा मामला प्रकाश में आया है। फेनेल ने डोप टेस्ट में पकड़ी गई नाइजीरियाई खिलाड़ी के बारे में कहा कि उन्होंने इस पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने कहा कि प्रतिबंधित के पदार्थ के बारे में उन्हें जानकारी नहीं थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डोपिंग में पकड़ी गई पैदल चाल एथलीट रानी, अस्थाई निलंबन