DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पत्नि ने पति पर लगाया दहेज उतपीड़न का आरोप

एक पत्नी ने अपने डॉक्टर पति पर दहेज प्रताड़ना का आरोप लगाया है। पत्नी स्वंय टीचर ट्रेनिंग कर रही है। वहीं, पति पत्नी को बेवफा बता रहा है। आरोप-प्रत्यारोप के बीच पति का दावा है कि उसने पत्नी और उसके पुरुष मित्र के बीच हुई बातचीत को न केवल टेप किया है, बल्कि उसकी सीडी भी बनाई है। जिसमें पत्नी अपने पुरुष मित्र से पति को झूठे दहेज प्रताड़ना के मामले में फंसाने को लेकर बात कर रही है। डॉक्टर पति की तरफ से यह सीडी बाकायदा अदालत के सामने पुलिस को सौंपी गई है। बहरहाल अदालत ने दहेज प्रताड़ना के मामले में आरोपी डॉक्टर पति को जमानत दे दी हैं और बाकी अन्य मुद्दों को आगे सुनवाई के लिए रख लिया है।


पेश मामले में वजीरपुर निवासी कामना(बदला हुआ नाम) की शादी पूर्व में बाड़ा हिन्दूराव अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर सचिन के साथ 19 अप्रैल 2009 को हुई थी। ज्योति द्वारा पीतमपुरा स्थित महिला अपराध शाखा को दी गई शिकायत में कहा गया था कि भजनपुरा थानाक्षेत्र में रहने वाला उसका पति सचित और उसके परिवार के सदस्य उसे कम दहेज लाने के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। उसेक साथ मारपीट की जाती थी। इस शिकायत के आधार पर 25 सितम्बर 2009 को अशोक विहार थाने में डॉक्टर सचिन और उसके परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का मुकदमा  दर्ज किया गया था। वहीं, ससुराल वालों को दहेज में दिया गया सामान भी पीड़िता को महिला अपराध शाखा की देखरेख में लौटा दिया गया था। अधिवक्ता जे पी बंसल ने आरोपी सचिन की जमानत याचिका दाखिल करते हुए पत्नी की कथित बेवफाई का सबूत पेश किया था।
पत्नी की गुहार
मायके वालों ने उसकी शादी में 18 लाख रुपये खर्च किए थे। सैंट्रो कार से लेकर घर की हर सुख सुविधा का सामान जैसे एसी, फ्रिज, कलर टीवी आदि दहेज में दिया गया था। इसके अलावा 7 लाख रुपये के जेवरात दिए गए थे। जो कि ससुराल वालों द्वारा नहीं लौटाए गए हैं। जबतक पति और ससुराल वाले जेवरात या 7 लाख रुपये नगद वापस न करें उन्हें जमानत न दी जाए।
पति की सफाई
पत्नी का एक युवक से प्रेम-प्रसंग चल रहा है। जिसकी भनक उसे शादी के बाद लग गई थी। इसीलिए उसने पत्नी और उसके पुरुष मित्र की बातचीत रिकार्ड कर सीडी तैयार कर ली थी। इस सीडी में पत्नी अपने दोस्त से कह रही थी कि जेवरात उसके ही पास है। लेकिन वह ससुराल वालों से उनका घर बिकवाकर 20 लाख रुपये लेगी। पति ने सीडी पुलिस को सौंपते हुए आवाज के नमूने की जांच की मांग की है।

‘अब पति-पत्नी के बीच विवाद महज गहनों को लेकर रह गया है। चूंकि अन्य स्त्रीधन पर लगभग पत्नी सहमति जाहिर कर चुकी है। ऐसे में महज गहनों को लेकर पति को जमानत नहीं देना कानून के नजरिये से उचित नहीं है। लिहाजा अदालत डॉक्टर पति को जमानत प्रदान करती है।’ एस के सरवरिया, जिला जज(रोहिणी अदालत)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पत्नि ने पति पर लगाया दहेज उत्‍पीड़न का आरोप