DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाहन चोरों का अंतर्राज्यीय गिरोह शिकंजे में

70 हजार की सफारी, 50 हजार की इण्डिका। 75 हजार की इनोवा और 65 हजार की स्कॉर्पियो। यकीन नहीं हो रहा लेकिन यह बात सौ फीसदी सच है। एनसीआर के चोरों की टोली ने आगरा के शातिरों के साथ मिल कर दजर्नों गाड़ियाँ चुराईं और अलग-अलग राज्यों में ठिकाने लगा दीं। हाईटेक अंदाज में गैंग ने गाड़ियों के इंजन व चेसिस नंबर बदले और बाजार में उतार दीं। अब तक यह गिरोह लाखों रुपये कमा चुका है। पुलिस ने आठ चोरों के साथ 15 लक्जरी गाड़ियां भी बरामद की हैं।


दिल्ली के तुर्कमान गेट के रहने वाले मुजीर को आगरा पुलिस ने पिछले दिनों चोरी की एक गाड़ी के साथ गिरफ्तार किया था। मुजीर ने बताया कि वह सिंधी कॉलोनी (अजरुन नगर) के भरत सिंह, शांति कुंज के योगेंद्र पाठक, प्रमोद पाठक, वेस्ट अजरुन नगर के राकेश परिहार, चांदनी महल (दिल्ली) के मोहम्मद अदनान, मोहम्मद शारिक, इमरान के साथ मिल कर गाड़ियाँ चुरा कर उन्हें बेचता था।
एसपी सिटी एलआर कुमार ने बताया कि यह गैंग आगरा, मथुरा, नोएडा, गाजियाबाद, अलीगढ़, फरीदाबाद, दिल्ली व आसपास के अन्य शहरों के लक्जरी गाड़ियाँ चुराते या लूटते थे और मेरठ में इंजन व चेसिस नंबर बदल कर बाजार में उतार देते थे। 50 हजार रुपये से चार लाख रुपये तक लक्जरी गाड़ी बिक जाती थी। चोरों के पास
वाहन चोरों को गिरफ्तार करने वाली टीम में एसओ एत्मादुद्दौला एके सिंह, एसआई स्वतंत्र पाल सिंह, सबलेंद्र सिंह, महेश पाठक, करतार सिंह आदि थे। टीम को आईजी की ओर से इनाम देने की घोषणा की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वाहन चोरों का अंतर्राज्यीय गिरोह शिकंजे में