DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब तक डेढ़ सौ वाहन बरामद


इस गैंग के दो सदस्य डेढ़ साल पहले नोएडा व गाजियाबाद में भी लक्जरी गाड़ियों के साथ पकड़े गए थे। उस समय गिरोह पर 16 वाहन बरामद हुए थे। अब तक इस गैंग से अलग-अलग राज्यों की पुलिस ने डेढ़ सौ वाहन बरामद किए हैं। गिरोह के एजेण्ट गाड़ियाँ लूट या चुरा कर गैंग तक पहुँचाते हैं। गिरोह के सदस्य वाहनों का इंश्योरेंस करने वाली कंपनियों के संपर्क में रहते हैं। जो गाड़ियाँ 90-100 प्रतिशत एक्सीडेण्टल होती हैं, उन्हें खरीद लेते हैं। गाड़ियों के इंजन नंबर व चेसिस नंबर को काट कर निकाल लेते हैं और मेरठ में इरफान, इकरार व इमरान के गैराज में यह नंबर चोरी की गाड़ियों पर फिट कर दिए जाते हैं। एक्सीडेण्ट गाड़ियों को कटवा कर सुबूत नष्ट कर दिया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब तक डेढ़ सौ वाहन बरामद