DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन का दोहरा शतक, आस्ट्रेलिया पर बढ़ा दवाब

सचिन का दोहरा शतक, आस्ट्रेलिया पर बढ़ा दवाब

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर 214 के शानदार दोहरे शतक और उसके बाद लेफ्ट आर्म स्पिनर प्रज्ञान ओझा तथा ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह की बलखाती गेंदों के जादू में फंसकर आस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ दूसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन मंगलवार को अपने सात विकेट 202 रन पर गंवा दिए।

भारत ने सचिन के करियर के छठे दोहरे शतक की मदद से अपनी पहली पारी में 495 रन बनाए और पहली पारी में आस्ट्रेलिया से 17 रन की बढ़त हासिल की। सचिन ने 363 गेंदों पर 214 रन की अपनी शानदार पारी में 22 चौके और दो छक्के लगाए।

आस्ट्रेलिया अपनी दूसरी पारी में दिन का खेल समाप्त होने तक हार के गहरे संकट में फंस चुका है। आस्ट्रेलिया को अपने कप्तान रिकी पोंटिंग से खासी उम्मीदें थीं लेकिन दिन के आखिरी आधे घंटे से थोड़ा पहले तेज गेंदबाज जहीर खान ने उन्हें पगबाधा आउट कर मैच पर भारत का शिकंजा कस दिया। पोंटिंग ने शानदार 72 रन बनाए।

आस्ट्रेलिया के पास अब कुल 185 रन की बढ़त है और उसके तीन विकेट शेष हैं। स्टंप्स के समय नाथन हौरित्ज आठ रन बनाकर और मिशेल जानसर सात रन बनाकर क्रीज पर थे। भारत की तरफ से ओझा ने 57 रन पर तीन विकेट और हरभजन ने 63 रन पर दो विकेट लिए।

भारत के दोनों स्पिनरों ओझा और हरभजन ने आस्ट्रेलिया के पहले पांच विकेट लेकर उसे गहरे झटके दिए। शेन वाटसन (31) और साइमन कैटिच (24) ने पहले विकेट के लिए 58 रन की साझेदारी की, लेकिन ओझा ने वाटसन को पगबाधा आउट किया जबकि कैटिच हरभजन की गेंद पर विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी को कैच थमा बैठे।

आस्ट्रेलिया ने अपने ये दोनों विकेट 58 के स्कोर पर गंवाए। आस्ट्रेलिया के खाते में अभी सात रन ही जुडे़ थे कि माइकल क्लार्क (3) ओझा की गेंद पर स्टम्प हो गए। माइक हसी (20) और पोंटिंग ने पारी को संभालने की कोशिश की और स्कोर को 126 तक ले गए।

ओझा ने हसी को पगबाधा आउट किया जबकि हरभजन ने पहली पारी के शतकधारी मार्कस नार्थ (3) को बोल्ड कर दिया। आस्ट्रेलिया के पांच रन के अंतराल में ये दोनों बल्लेबाज गंवा दिए और उसका स्कोर पांच विकेट पर 131 रन हो गया।

पोंटिंग ने विकेटकीपर टिम पेन के साथ छठे विकेट के लिए 50 रन की साझेदारी की। पोंटिंग आस्ट्रेलिया को सुरक्षित स्थिति में ले जाने की कोशिश में लगे थे कि जहीर ने उन्हें पगबाधा आउट कर भारत के रास्ते का सबसे बड़ा कांटा दूर कर दिया। पोंटिंग ने 117 गेंदों में 72 रन की अपनी पारी में सात चौके और एक छक्का लगाया।

आस्ट्रेलिया अभी इस झटके से उबर भी नहीं पाया था कि शांतकुमारन श्रीसंत ने पेन को विकेट के पीछे कैच करवा दिया। आस्ट्रेलिया ने एक बार फिर चार रन के अंतराल में अपने दो विकेट गंवाए और उसका स्कोर सात विकेट पर 185 रन हो गया।

आस्ट्रेलिया का सातवां विकेट 185 के स्कोर पर गिरा लेकिन जानसन और हारित्ज ने इसके बाद टीम को कोई और नुकसान नहीं होने दिया। आस्ट्रेलिया की पारी में ओझा के तीन और हरभजन के दो विकेट के अलावा जहीर ने 32 रन पर एक विकेट और श्रीसंत ने 40 रन पर एक विकेट लिया।

इससे पहले भारत ने अपने सोमवार के स्कोर पांच विकेट पर 435 रन से आगे खेलना शुरू किया। सचिन 191 और कप्तान धोनी 11 रन पर नाबाद थे। सचिन ने कुछ देर बाद एक रन लेकर अपना दोहरा शतक पूरा किया, लेकिन सचिन के आउट होने के बाद ही भारतीय पारी ताबड़तोड़ अंदाज में सिमट गई।

अपना पहला टेस्ट खेल रहे पीटर जार्ज ने मास्टर ब्लास्टर को बोल्ड कर अपने करियर की यादगार शुरुआत की। सचिन का विकेट 446 के स्कोर पर गिरा और फिर 495 के स्कोर तक पूरी भारतीय टीम सिमट गई। भारत ने अपने आखिरी पांच विकेट नौ रन जोड़कर गंवा दिए।

धोनी ने 30 रन बनाए। भारत की पारी में 40 अतिरिक्त रनों का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा जो भारतीय पारी का शतकधारियों सचिन और मुरली विजय के बाद तीसरा सबसे बड़ा स्कोर रहा। आस्ट्रेलिया की तरफ से मिशेल जानसन ने 105 रन पर तीन विकेट, जार्ज ने 48 रन पर दो विकेट और हारित्ज ने 153 रन पर दो विकेट लिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सचिन का दोहरा शतक, आस्ट्रेलिया पर बढ़ा दवाब