अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

येदियुरप्पा, समर्थक विधायक आज मिलेंगे राष्ट्रपति से

येदियुरप्पा, समर्थक विधायक आज मिलेंगे राष्ट्रपति से

कर्नाटक में सरकार द्वारा विवादास्पद तरीके से विश्वासमत हासिल करने के बाद अब सबकी निगाहें राष्ट्रीय राजधानी की ओर टिक गयी हैं क्योंकि मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा का अपने समर्थक विधायकों के साथ यहां पहुंचने का कार्यक्रम है। वह राष्ट्रपति से मुलाकात कर यह साबित करने का प्रयास करेंगे कि उनके पास बहुमत है।

सूत्रों ने बताया कि येदियुरप्पा के अपने विधायकों के साथ मंगलवार दोपहर तक नई दिल्ली पहुंचने की संभावना है। राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के पुणे में होने के कारण उनसे मुलाकात के लिए येदियुरप्पा को शाम तक प्रतीक्षा करनी पड़ सकती है।

येदियुरप्पा ने दिल्ली रवाना होने से पहले बेंगलूरू हवाई अड्डे पर संवाददाताओं को बताया, मंगलवार को भाजपा के सभी विधायक एवं सांसद (कर्नाटक के) नितिन गडकरी, सुषमा स्वराज और लालकृष्ण आडवाणी के नेतृत्व में दिल्ली जा रहे हैं। हम राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे। हम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को सारी बात बतायेंगे।

विधानसभा अध्यक्ष केजी बोपैया द्वारा भाजपा के 11 बागी विधायकों और पांच निर्दलियों को अयोग्य करार दिये जाने के बाद कर्नाटक विधानसभा की सदस्य संख्या घटकर 208 रह गयी है। ऐसे में भाजपा सरकार ने 106 सदस्यों का समर्थन होने का दावा किया है जो आधे से दो अधिक है।

कनार्टक की भाजपा इकाई और पार्टी का केन्द्रीय नेतृत्व राज्यपाल हंसराज भारद्वाज को वापस बुलाये जाने की मांग करता रहा है। सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रपति से मुलाकात के दौरान येदियुरप्पा यह मांग दोहरा सकते हैं।

इस बीच, गडकरी की अध्यक्षता में भाजपा के कोर ग्रुप की आडवाणी के निवास पर बैठक हो सकती है जिसमें कर्नाटक की स्थिति पर विचार किया जायेगा और आगे की कार्रवाई तय की जायेगी।

कोर ग्रुप के सदस्य और कनार्टक में मौजूदा संकट से निपट रहे एम वेंकैया नायडू वरिष्ठ नेताओं को मौजूदा स्थिति की जानकारी देंगे।

राज्य विधानसभा में सोमवार को विश्वास मत के बाद राज्यपाल ने केन्द्र को अपनी रिपोर्ट भेजी थी। उसमें विधानसभा में हासिल किये गये विश्वास मत और वहां हुई घटनाओं को गैर संवैधानिक और मजाक करार दिया गया और सिफारिश की गयी कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाये।

गृह मंत्रालय ने भी कर्नाटक के घटनाक्रम पर अपना असंतोष जताया था। कर्नाटक हाईकोर्ट में सोमवार को 16 विधायकों की याचिका पर सुनवाई होगी। विधायकों ने उन्हें अयोग्य करार दिये जाने के फैसले को चुनौती दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:येदियुरप्पा, समर्थक विधायक आज मिलेंगे राष्ट्रपति से