DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमूल छोटे उस्ताद की चैंपियन आकांक्षा

यह मेरे लिए मेरे सपनों के सच होने जैसा है। मैं बहुत खुश हूं। साथ ही इस बात की संतुष्टि भी है कि मैंने अपने माता-पिता, तमाम चाहनेवालों और प्रशंसकों का मान रखा। स्टार प्लस के रियलिटी शो अमूल छोटे उस्ताद की चैंपियन और कोडरमा की बेटी आकांक्षा ने टेलीफोन पर यह बात हिन्दुस्तान से कही।

रविवार की रात उसे इस शो का विजेता घोषित किया गया। प्रतियोगिता में पाकिस्तान के रेहान के साथ उसकी जोड़ी बनाई गई थी। सोमवार की सुबह जब आकांक्षा को टेलीफोन किया गया, तो उसने कहा कि यह उपलब्धि उसके माता-पिता के आशीर्वाद का परिणाम है। करीब 14 वर्षीय आकांक्षा ने कहा कि गायन की यह प्रतियोगिता इतनी कठिन थी कि चैंपियन बनना किसी सपने के सच होने जैसा है।

उसने कभी सोचा भी नहीं था कि वह इस कठिन प्रतियोगिता में अव्वल आएगी। उसने बताया कि शो में पाकिस्तान के रेहान ने उसका जम कर साथ निभाया। इसलिए इस जोड़ी ने सभी चुनौतियों का सामना किया। आकांक्षा का कहना है कि वह प्लेबैक सिंगर बनेगी। इस रास्ते में आनेवाली चुनौतियों से वह अपनी मेहनत से निबटेगी। उसे जो भी काम मिलेगा, उसे बखूबी निभाने का हरसंभव प्रयास करेगी।

ज्ञात हो कि इस कार्यक्रम में पहुंचे जाने-माने फिल्मकार व निर्देशक महेश भट्ट ने अपनी आनेवाली नई फिल्म में गाने की पेशकश आकांक्षा से की है। आकांक्षा ने कहा कि वह रांची और तिलैया में कार्यक्रम प्रस्तुत करेगी। बताते चलें कि रांची में आकांक्षा की ननिहाल है। उसने झुमरी तिलैया समेत पूरे झारखंड, राजस्थान, अन्य राज्यों और पाकिस्तान में उसे चाहनेवाले संगीत प्रेमियों का शुक्रिया अदा किया।

उसने कहा कि उसके प्रदर्शन को सराहनेवालों की वह आभारी है। आकांक्षा के पिता आनंद शर्मा ने एक सवाल के जवाब में कहा कि पुत्री से पिता की पहचान बनी है। एक पिता के लिए इससे और बड़ी खुशी और क्या हो सकती है। उन्होंने बताया कि पुत्री आकांक्षा का 2005 से संगीत के प्रति रुझान बढ़ा और फिर उसने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमूल छोटे उस्ताद की चैंपियन आकांक्षा