अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीजल को नियंत्रणमुक्त करने का फिलहाल इरादा नहीं: चावला

सरकार ने कहा है कि डीजल की कीमतों को नियंत्रणमुक्त करने का फिलहाल उसका कोई इरादा नहीं है। सरकार के इस बयान से ट्रांसपोर्टरों के साथ डीजल का इस्तेमाल करने वाले अन्य वर्ग के लोगों को राहत मिली है।

वित्त सचिव अशोक चावला ने सीएनबीसी टीवी 18 पर एक परिचर्चा के दौरान कहा कि मुझे नहीं लगता कि डीजल की कीमतों को नियंत्रणमुक्त किए जाने का यह सही समय है और न ही यह उचित होगा।

सरकार ने इसी साल जून में पेट्रोल की कीमतों को नियंत्रणमुक्त कर दिया था, पर डीजल के बारे में कोई निर्णय नहीं किया गया था। कीमतों को नियंत्रणमुक्त किए जाने के बाद पेट्रोल के दाम 3.50 रुपये प्रति लीटर बढ़ गए थे। हालांकि उस समय डीजल के दाम दो रुपये प्रति लीटर बढ़ाए गए थे। वहीं इसके साथ ही रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में 35 रुपये प्रति सिलेंडर तथा मिटटी के तेल में तीन रुपये प्रति लीटर की वृद्धि की गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीजल को नियंत्रणमुक्त करने का फिलहाल इरादा नहीं: चावला