DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घर-घर जाकर किया चुनाव प्रचार

इंतजार की घडि़या खत्म, सोमवार सुबह सात बजे से भोजपुर ब्लाक की 51 ग्राम पंचायतों में पंचायत चुनाव के लिए मतदान शुरू होगा। हालांकि चुनाव प्रचार शनिवार शाम को ही खत्म हो गया था। इसी के चलते रविवार को प्रत्याशियों ने मतदाताओं के घर-घर जाकर वोट मांगे। उधर, प्रशासन ने सभी तैयारियां पूरी करते हुए पोलिंग पार्टियां बूथों के लिए रवाना कर दी हैं।
एसडीएम ज्ञानेन्द्र सिंह ने बताया कि वोटर आई कार्ड न होने की दशा में निर्वाचन आयोग की ओर से 14 ऐसे पहचान चिह्न् धारकों को वोट दिलाने का अधिकार दिया गया है जो यह प्रमाणित करते हों कि मतदाता सूची में दर्ज व्यक्ति सही है।

गौरलतब है कि चुनाव की घोषणा होने के बाद से ही प्रत्याशियों ने चुनाव प्रचार शुरू कर दिया था। दिन-रात प्रत्याशी चुनाव प्रचार में जुटे नजर आये। पिछले दस दिनों से भोजपुर ब्लाक में जोर-शोर से जारी चुनाव प्रचार शनिवार शाम पांच बजे थम गया। इसके बाद प्रत्याशियों ने घर-घर जाकर वोट मांगे और लुभावने आश्वासन दिये।

इन चुनावों में पीछे चुनावों की अपेक्षा शराब की परोसदारी कहीं अधिक रही। प्रशासन चुनाव आयोग की लाख बंदिशों के बाद भी मतदाताओं को लुभावने तरीके रोकने में पूरी तरह नाकाम रहा। शराब ठेके के सेल्समैन ने बताया कि आम दिनों की अपेक्षा पिछले दस दिनों में शराब की ब्रिकी दस गुना अधिक रही है। इतना ही नहीं तस्करी होकर आई शराब ग्रामीण अंचल में अधिक देखी गई।

इधर मतदान शांतिपूर्ण तरीके निपटने के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। भारी मात्रा में पुलिस बल मतदान केंद्रों पर तैनात किया गया है। वहीं संदिग्ध व्यक्तियों को पीले व लाल कार्ड वितरित कर उनपर कडी नजर रखी जा रही है। एसडीएम ज्ञानेन्द्र सिंह का कहना है कि चुनाव में गड़बड़ करने वाले के विरुद्ध रासुका के तहत कार्रवाई होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घर-घर जाकर किया चुनाव प्रचार