अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फ्रस्ट्रेशन बना घटना का कारण

लगातार डय़ूटी करने और छुट्टी न मिलने के कारण कई दिनों से काफी फ्रस्ट्रेशन में चल रहा था हत्यारा सीआरपीएफ जवान जिसने चुनाव डय़ूटी के लिए रोहतास पहुंचने से पूर्व ही छुट्टी के लिए अधिकारियों पर दबाव बनाया था। इसका खुलासा उसके साथी जवानों ने घटना के बाद किया। जवानों ने बताया कि कमांडेंट व सब इंस्पेक्टर को गोलियों से छलनी करने वाला राहुल कुमार कुछ दिनों से फ्रस्ट्रेशन में जरूर था। लेकिन राहुल इतना बड़ा कदम उठा लेगा, यह किसी ने कल्पना तक नहीं की थी। शुक्रवार की शाम ही उसने सभी जवानों के साथ खाना गया। लेकिन किसी को कुछ नहीं बताया। उसने रात में अपनी डय़ूटी भी की और सुबह होते ही रौद्र रूप धारण कर लिया। जब वह हाथ में एके 47 व एस 60 हथियार लेकर लहराने लगा। उस वक्त उसे उसके साथी जवान भी अपरिचित नजर आ रहे थे। उसे तब तक काबू में नहीं किया जा सका, जब तक उसकी बंदूकों की गोलियां खत्म नहीं हो गईं। नीचे अपने कमरे में सो रहे दोनों अधिकारियों की हत्या के बाद राहुल ने छत पर मोर्चा संभाल लिया, तो जवान डर से दुबक गये। साथी जवान कमरे से ही राहुल को नियंत्रण में करने की अपील कर रहे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फ्रस्ट्रेशन बना घटना का कारण