DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सानिया का सोना जीतने का सपना टूटा

सानिया का सोना जीतने का सपना टूटा

वर्षों से चली आ रही लचर सर्विस की अपनी कमजोरी के कारण सानिया मिर्जा को सांस थमा देने वाले फाइनल मुकाबले में शनिवार को आस्ट्रेलिया की अनास्तेसिया रोडियोनोवा के हाथों 3-6, 6-2, 6-7 की हार से राष्ट्रमंडल खेलों की टेनिस प्रतियोगिता के महिला एकल में रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा।

सानिया ने वापसी का गजब का नमूना पेश किया। उन्होंने शुरुआती सेट में पिछड़ने के बाद तीसरे और निर्णायक सेट में चार मैच प्वाइंट भी बचाए लेकिन टाईब्रेकर में जब रोडियोनोवा के पास तीन मैच प्वाइंट थे तब भारतीय स्टार ने डबल फाल्ट करके दो घंटे 13 मिनट तक चले मैच को आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को सोने का तमगा दे दिया।

सानिया मिश्रित युगल में पहले ही बाहर हो चुकी हैं लेकिन अभी उनकी उम्मीद महिला युगल पर टिकी हैं जिसमें उन्हें रश्मि चक्रवर्ती के साथ मिलकर सेमीफाइनल में रोडियोनोवा और सैली पियर्स से भिड़ना है। सानिया ने मैच के बाद मीडिया से सिर्फ इतना ही कहा कि मैंने जीतने की बहुत कोशिश की लेकिन आज भाग्य मेरे साथ नहीं था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सानिया का सोना जीतने का सपना टूटा