अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रमंडल खेलः सातवें दिन होंगे 29 स्वर्ण दांव पर

राष्ट्रमंडल खेलः सातवें दिन होंगे 29 स्वर्ण दांव पर

राष्ट्रमंडल खेलों के सातवें दिन यानी 10 अक्टूबर को कुल 29 स्वर्ण पदक दांव पर लगे होंगे जिनमें विश्व चैंपियन पहलवान सुशील कुमार और टेनिस स्टार सोमदेव देववर्मन के मुकाबले भी शामिल हैं।

भारत के लिए दस अक्टूबर का स्वर्णिम दिन हो सकता है क्योंकि कुश्ती में सुशील के अलावा अनिल कुमार (55 किग्रा), अनुज कुमार (84 किग्रा) और जोगिंदर (120 किग्रा) भी स्वर्ण पदक के दावेदार हैं।

एथलेटिक्स में रविवार को भी सबसे अधिक नौ स्वर्ण पदकों का फैसला होगा जिनमें चक्का फेंक में विकास गौड़ा तथा महिलाओं की लंबी कूद में मयूखा जानी और प्रजूषा मल्लिकल अपना दावा पेश करेंगे। तीरंदाजी में पुरुष और महिला वर्ग के व्यक्तिगत रिकर्व के दो स्वर्ण पदकों पर भी भारतीयों की निगाहें टिकी रहेंगी। भारत से महिला वर्ग में दीपिका कुमारी और डोला बनर्जी तथा पुरुष वर्ग में राहुल बनर्जी और जयंत तालुकदार खिताब के दावेदार हैं।

निशानेबाजों पर फिर से निगाह टिकी रहेंगी जहां तीन स्वर्ण पदक दांव पर लगे रहेंगे। इनमें विजय कुमार और हरप्रीत सिंह से पुरुषों की 25 मीटर सेंटर फायर पिस्टल के एकल में स्वर्ण पदक की उम्मीद है। भारात्तोलन में दांव पर लगे दो स्वर्ण पदकों पर में से एक पर भारतीय गीता रानी (महिलाओं की 75 किग्रा से अधिक) अपना दावा पेश करेगी।

टेनिस में दो स्वर्ण पदक दांव पर हैं जिनमें से पुरुष एकल में सोमदेव आस्ट्रेलिया के ग्रेग जोन्स से खिताबी मुकाबला खेलेंगे। इसमें पहली वरीय भारतीय का पलड़ा भारी लगता है। इसके अलावा गोताखोरी में तीन, साइकिलिंग में दो और लान बाल्स में भी दो स्वर्ण पदकों का कल फैसला होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रमंडल खेलः सातवें दिन होंगे 29 स्वर्ण दांव पर