अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पोंटिंग-वाटसन के अर्धशतक के बाद भारत ने की वापसी

पोंटिंग-वाटसन के अर्धशतक के बाद भारत ने की वापसी

कप्तान रिकी पोंटिंग (77) और सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन (57) की अर्धशतकीय पारियों की बदौलत आस्ट्रेलिया ने शनिवार को भारत के खिलाफ दूसरे और अंतिम टेस्ट के पहले दिन पांच विकेट खोकर 285 रन बनाए।

आस्ट्रेलियाई टीम इस समय जिस दबाव में है उसका श्रेय भारतीय गेंदबाजी को जाता है क्योंकि साइमन कैटिच (43) और शेन वाटसन की सलामी जोड़ी ने अपनी टीम को ठोस शुरुआत दी थी लेकिन हरभजन सिंह और प्रज्ञान ओझा की स्पिन जोड़ी ने भारत को सफलताएं दिलाई।

कैटिच के पवेलियन लौटने के बाद आस्ट्रेलिया ने निरंतर अंतराल पर विकेट खोए और खराब रोशनी की वजह से दिन का खेल करीब चार ओवर पहले 85.5 ओवर के बाद रोके जाने तक पांच विकेट के नुकसान पर 285 रन बना लिए। उस समय मार्कस नार्थ 43 और टिम पेन 8 रन बना कर खेल रहे थे।

इससे पहले शनिवार सुबह आस्ट्रेलिया ने चिन्नास्वामी स्टेडियम में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय किया। भारतीय टीम में पहले टेस्ट के नायक रहे कलात्मक बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण और ईशांत शर्मा और गौतम गंभीर को चोटिल होने की वजह से शामिल नहीं किया गया।

इन तीनों क्रिकेटरों की जगह क्रमश: सौराष्ट्र के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा, एस श्रीसंत और मुरली विजय को टीम में शामिल किया गया। वहीं दूसरी ओर आस्ट्रेलियाई टीम में चोटिल तेज गेंदबाज डग बोलिंजर के स्थान पर पीटर जार्ज शामिल हुए।

कैटिच और वाटसन ने आज टीम को ठोस शुरुआत दी। वाटसन ने अपनी पारी में शानदार नौ चौके लगाए और भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को आसानी से खेला। दोनों सलामी बल्लेबाजों ने मिलकर पहले सत्र टीम का स्कोर बिना किसी नुकसान के 95 रन तक पहुंचाया। कैटिच ने सात चौके लगाए।

लंच के बाद हरभजन ने भारत को पहली सफलता दिलाई जब उन्होंने दूसरे सत्र के पहले ही ओवर में सलामी बल्लेबाज साइमन कैटिच (43) को पवेलियन भेज दिया। कैटिच ने हरभजन की गेंद को कट करने का प्रयास किया लेकिन गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर स्लिप में खड़े राहुल द्रविड़ के हाथों में चली गई। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने शेन वाटसन के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 99 रन जोड़े।

पहला विकेट गिरने के बाद आस्ट्रेलियाई रन गति में कुछ लगाम लगी और बाएं हाथ के स्पिन प्रज्ञान ओझा ने वाटसन को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच करवाकर भ्रमणकारी टीम को दूसरा झटका दिया। इसके बाद उपकप्तान माइकल क्लार्क मैदान पर उतरे लेकिन सिर्फ 14 रन बनाकर चलते बने।

तीन खिलाड़ियों के पवेलियन लौटने के बाद कप्तान रिकी पोंटिंग ने कुछ अच्छे शाट लगाकर दबाव हटाने का प्रयास किया। दूसरे सत्र की समाप्ति तक आस्ट्रेलिया ने तीन विकेट पर 189 रन बनाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पोंटिंग-वाटसन के अर्धशतक के बाद भारत ने की वापसी