अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीएआर कंपनी को खंगाल रही सीबीआई

कोड़ा लूटराज के मामले में केंद्रीय जांच एजेंसी ग्लोब्स एबसोल्यूट्स रिसर्च (जीएआर) नामक कंपनी को खंगालने में जुटी हुई है। सीबआई यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि इस कंपनी के निदेशक मंडल में कौन-कौन सी शख्सियत जुड़ी हुई है। सीबीआई को सूचना मिली है कि मधु कोड़ा के कार्यकाल में जीएआर कंपनी के कई खातों में करोड़ों रुपये की राशि हस्तांतरित हुई थी।

सीबीआई के अधिकारी इस बात की जानकारी लेने में जुटे हुए हैं कि आखिर किन वजहों से करोड़ो रुपये की राशि जीएआर कंपनी को अलग-अलग माध्यमों से हस्तांतरित की गयी थी। इस बाबत भाजपा के वरीय नेता तथा कोड़ा लूटराज को प्रकाश में लाने वाले सरयू राय ने भी इस मामले की जांच की मांग की थी।

अब सीबीआई, दिल्ली शाखा काले धन के हस्तांतरण की जांच में जुट गयी है। सूत्रों के अनुसार मधु कोड़ा के कार्यकाल में जीएआर कंपनी को कंसलटेंट बनाने की चर्चा जोर-शोर से चली थी। सीबीआई को शक है कि झारखंड से की गयी अवैध कमाई को हवाला के माध्यम से विदेशों में भेजा गया और फिर उस राशि को जीएआर जैसी कंपनियों के खाते में हस्तांतरित की दी गयी।

सीबीआई कोड़ा लूटराज के मामले में कुछ हवाला कारोबारियों से भी पूछताछ करने का मन बना चुकी है। दो हवाला कारोबारी मनोज पुनमिया तथा अरविंद व्यास अभी रांची के होटवार स्थित केंद्रीय कारागार में न्यायिक हिरासत में हैं। दोनों अभियुक्तों को पिछले 12 अगस्त को इडी ने दिल्ली से गिरफ्तार किया था। वे पीएलएमए कोर्ट के अभियुक्त हैं, लिहाजा उनसे पूछताछ के लिए अदालत की पूर्वानुमति आवश्यक है

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीएआर कंपनी को खंगाल रही सीबीआई