DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुंडा की कैबिनेट में सबका खयाल

मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने कैबिनेट में सबका ख्याल रखा। नए चेहरों को जगह दी। पुराने और अनुभवी लोग शामिल किए गए। क्षेत्रीय और जातीय संतुलन बनाने के प्रयास में मुंडा सफल भी रहे। गठबंधन की सरकार में मुख्यमंत्री को सभी साथी दलों का खयाल रखना पड़ता है।

झामुमो से बने मंत्रियों का चयन शिबू सोरेन ने किया। वहीं जदयू और आजसू की ओर से उनके नेताओं ने ही नाम दे दिए। इस लिहाज से देखें तो मुख्यमंत्री को भाजपा के अंदर ही सामाजिक और क्षेत्रीय संतुलन बनाने की मशक्कत करनी पड़ी। वैसे संपूर्ण कैबिनेट पर नजर डालें तो सभी प्रमंडलों को प्रतिनिधित्व मिला। सामाजिक समीकरण के लिहाज से आदिवासी, अनुसूचित जाति, पिछड़ी जाति, अल्पसंख्यक और अगड़ी जाति को समायोजित किया गया। एक महिला को भी कैबिनेट में शामिल कर मुख्यमंत्री ने समीक्षकों के लिए कोई जगह नहीं छोड़ी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुंडा की कैबिनेट में सबका खयाल