DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डैथ प्वाईंट के रूप में विकसित हो रहा है भंगेला

 भंगेला गांव दुर्घटनाओं की दृष्टि से संवेदनशील स्थान माना जाता है। यहां अक्सर होने वाली दुर्घटनाओं में इंसानी जिस्म के मांस के लोथडों में तब्दील होने में देर नही लगती तथा पलक झपते ही जिंदगी मौत में बदल जाती है। खतरनाक स्थल होने के बावजूद प्रशासन की ओर से यहां सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नही किए गए है। यहां से गुजरते समय वाहन तेज गति में होते है। सड़क की दशा भी ऐसी है कि हल्की सी झपक में ही हादसा हो जाता है। बीती रात हुए ऐसे ही एक हादसे में तीन जानें चली गई है। इससे पहले 29 मार्च भंगेला में ही एक रोडी भरे ट्रक के अनियंत्रित होकर रोडवेज की बस पर पलट जाने से आधा दजर्न जानें चली गई थी तथा करीब दो दजर्न कुम्भ यात्राी मौत के आगोश में समा गए थे। इससे पहले कैली गांव के भी दो बाइक सवार युवको की यहां मौत हो गई थी। भंगेला में होने वाले हादसों को रोकने के लिए प्रशासन कोई उपाय करता नजर नही आ रहा है। नागरिकों ने यहां गति नियंत्रित रखने के संकेतक लगाए जाने की मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डैथ प्वाईंट के रूप में विकसित हो रहा है भंगेला