अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुद्रा को लेकर खींचतान बन सकती है बड़ा संकट : विश्व बैंक

विश्व बैंक के अध्यक्ष राबर्ट जोएलिक ने गुरूवार को अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आगाह किया कि मुद्रा को लेकर जारी मौजूदा खींचतान को ढंग से नहीं निपटाया गया तो यह बड़ी समस्या बन सकती है।

उन्होंने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आज हमारे समझ मुद्रा को लेकर तनाव है। ये तनाव अगर सही ढंग से निपटाए नहीं गए तो बड़ी समस्या बन सकते हैं।

आईएमएफ तथा विश्व बैंक की बैठकों से पहले संवाददाताओं से बातचीत में जोएलिक ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि किसी को भी इन हालात को हल्के में लेना चाहिए क्योंकि मेरा प्राथमिक संदेश यही है कि सुधार बहुत कमजोर है और संभावित जोखिमों के प्रति सावधान रहना होगा।

  
जोएलिक ने कहा कि चीन के मामले में उनका मानना है कि मुद्रा को मजबूत करना चाहिए, यह आसान नहीं है क्योंकि इसमें बचत-खपत संतुलन जैसे कई मुद्दे जुड़े हुए हैं।
  
अध्यक्ष ने कहा कि हमने चीन से इसके कुछ रास्तों पर बात की है। चीनी खुद इस तरफ कदम उठाने में रचि दिखा चुके हैं और इसे अपनी अगले पंचवर्षीय योजना में ले रहे हैं। लेकिन यह सिर्फ चीन की ही जिम्मेदारी नहीं है।

  
उन्होंनें कहा कि अमेरिका में हालात उल्टे हैं। वहां बचत कम तथा खपत अधिक है। इसलिए अमेरिका को भी खर्च तथा बजटीय मुद्दों पर ध्यान देना होगा। जोएलिक ने कहा कि विश्व अर्थव्यवस्था में सुधार की गति बहुत कम है और जब बेरोजगारी उंची हो तो दूसरे तनाव का जोखिम रहता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुद्रा को लेकर खींचतान बन सकती है बड़ा संकट