DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या जमीन के तीन दावेदार करेंगे बातचीत

अयोध्या की श्रीराम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद के मालिकाना हक के चार दावेदारों में से तीन इस मसले का हल बातचीत से करने को लेकर शुक्रवार शाम बैठक करेंगे।

मालिकाना हक को लेकर पिछले 30 सितंबर को इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ का निर्णय आने के बाद से ही बातचीत से इसके हल की कोशिशें तेज हो गई हैं। रामलला विराजमान स्थल के प्रतिनिधि के रूप में राम विलास वेदांती, निर्मोही अखाडा के महंत भाष्कर दास और मुख्य मुस्लिम मुद्दई मोहम्मद हाशिम अंसारी मसले के हल का कोई फार्मूला तलाशने के लिए आज बैठक कर रहे हैं।

बैठक देश में साधु संतों की सर्वोच्च संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महंत ज्ञान दास के हनुमानगढ़ी स्थित आवास पर होगी। बैठक की जानकारी देते हुए मोहम्मद हाशिम अंसारी ने कहा कि पिछले चार पांच दिन से हो रही बातचीत सही दिशा में चल रही है। उन्होंने दावा किया कि मामले के उच्चतम न्यायालय में जाने से पहले ही मसले का हल निकल आएगा।

हालांकि हाशिम द्वारा चल रही बातचीत की पहल को सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड सही नहीं मान रहा है। सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने दो दिन पहले अपनी आपात बैठक में उच्च नयायालय के निर्णय को उच्चतम न्यायालय में चुनौती देने का फैसला किया है।

बोर्ड के सूत्रों ने कहा कि यदि उन्हें बातचीत का लिखित प्रस्ताव मिलता है तो उसे बैठक में रखकर उस पर विचार किया जा सकता है। बैठक में शामिल करने के बारे में कुछ धार्मिक नेताओं के बयान आए हैं लेकिन बयान के आधार पर सुनी सेंट्रल वक्फ बोर्ड बैठक में शामिल होने के बारे में विचार नहीं कर सकता। इसके लिए लिखित प्रस्ताव चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अयोध्या जमीन के तीन दावेदार करेंगे बातचीत