DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पड़ोस में सुरक्षा स्थितियां विस्फोटक: वायु सेना प्रमुख

पड़ोस में सुरक्षा स्थितियां विस्फोटक: वायु सेना प्रमुख

भारतीय वायु सेना प्रमुख पी वी नाइक ने देश के पड़ोस में मौजूदा सुरक्षा स्थितियों को ऐसे ज्वालामुखी की संज्ञा दी है, जो किसी भी समय फट सकता है। नाइक ने जवानों से कहा कि वे किसी भी प्रकार की आंतरिक और बाह्य चुनौती से निपटने के लिए हर समय तैयार रहें।

नाइक ने वायु सेना दिवस परेड को संबोधित करते हुए कहा कि मौजूदा सुरक्षा परिस्थितियां किसी ज्वालामुखी की तरह हैं, जो बिना चेतावनी के किसी भी समय आपकी दक्षताओं की परीक्षा ले सकती हैं। ऐसे समय में त्वरित कार्रवाई की जरूरत होती है।

वायु सेना प्रमुख ने कहा कि जटिल और गहन खतरों से बचने के लिए अभियान स्तर की तैयारियां सबसे अहम होती हैं। नाइक ने इस बात पर भी जोर दिया कि वायु सेना खुद को अगले पांच से सात साल में सक्षम हवाई शक्ति में बदल लेगी।

उन्होंने कहा कि भविष्य में 126 एमएमआरसीए, हवा में ईंधन भरने की क्षमता वाले विमानों और अवाक्स को शामिल किए जाने से तकनीकी स्तर पर नई चुनौतियां आएंगी, जिन्हें पूरा करने के लिए नए प्रकार की दक्षताओं की जरूरत होगी।

उन्होंने इस बात को भी रेखांकित किया कि एएसएनईटी जैसे नए संचार नेटवर्क ने वायु सेना के अपने अभियानों को पूरा करने के तरीके को बदल दिया है और वायु सेना नेटवर्क केंद्रित हवाई शक्ति बनने की राह पर तेजी से अग्रसर है।

नाइक के मुताबिक हम पर नई तकनीकों को ग्रहण करने और वायु सेना की सभी मैदानी और हवाई संपत्ति को प्रभावी तौर पर सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी है। बाद में संवाददाताओं से बात करते हुए नाइक ने कहा कि उन्होंने सुरक्षा स्थिति को इसलिए विस्फोटक की संज्ञा दी क्योंकि कोई नहीं जानता कि स्थितियां कब विपरीत हो जाएं।

सेना के आधुनिकीकरण और इसमें नई तकनीकों को शामिल करने के बारे में वायु सेना प्रमुख नाइक ने कहा कि अगले दशक तक सेना के बेडे़ में एमएमआरसीए और पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान (एफजीएफए) शामिल हो जाएंगे, इनसे सेना को राष्ट्रीय हितों की रक्षा करने मे मदद मिलेगी।

एफजीएफए के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इन्हें 2017 तक वायु सेना में शामिल कर लिया जाएगा। नाइक ने इनकी अमेरिकी वायु सेना के एफ-22 राप्टर से तुलना भी की। नाइक ने अपनी इच्छा जाहिर करते हुए कहा मैं सोचता हूं कि काश मैं इन आधुनिक विमानों को उड़ाने के लिए दोबारा वायु सेना में शामिल हो सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पड़ोसी देशों में सुरक्षा स्थितियां विस्फोटक: वायु सेना प्रमुख