DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुधीर कुमार को भारोत्तोलन में कांस्य पदक

भारत के सीपीआर सुधीर कुमार का भाग्य ने पूरा साथ दिया जिससे वह एक समय पदक की दौड़ से लगभग बाहर होने के बावजूद राष्ट्रमंडल खेलों की भारोत्तोलन स्पर्धा के पुरुषों के 77 किग्रा भार वर्ग में कांस्य पदक जीतने में सफल रहे।

सुधीर ने स्नैच और क्लीन एवं जर्क दोनों में कुल 297 किग्रा भार उठाया। वह तीन भारोत्तोलकों से पीछे चल रहे थे, लेकिन स्नैच राउंड के बाद नारू के युकियो पीटर के साथ चोटी पर चल रहे नाईजीरियाई फेलिक्स एक्पो क्लीन एवं जर्क में तीनों प्रयास में असफल रहे जिससे भारतीय को कांस्य पदक मिल गया।

नारू के युकियो पीटर ने स्वर्ण जबकि आस्ट्रेलिया के बेन टर्नर ने रजत पदक जीता। भारतीय भारोत्तोलक ने शुरू से ही निराशाजनक प्रदर्शन किया। वह स्नैच के पहले प्रयास में 131 किग्रा भार उठाने में सफल रहे लेकिन अगले दो प्रयास में 136 किग्रा भार नहीं उठा पाए। इस बीच पीटर ने स्नैच में 148 किग्रा भार उठाकर भारत के सतीशा राय के राष्ट्रमंडल खेलों के पिछले रिकार्ड को तोड़ा। नाईजीरियाई एक्पो ने भी हालांकि 148 किग्रा भार उठाकर इसकी बराबरी कर दी।

बेन टर्नर ने स्नैच में 133 किग्रा के बाद क्लीन एवं जर्क में 175 किग्रा भार उठाया और कुल 308 किग्रा के साथ वह तीसरा स्थान हासिल करने की स्थिति में थे। अब स्नैच में चोटी पर रहने वाले दो भारोत्तोलकों के बीच स्वर्ण पदक के लिए मुकाबला था। पीटर ने पहले प्रयास में ही 185 किग्रा भार उठाकर कुल 333 किग्रा भार अपने नाम लिखवा दिया।

एक्पो हालांकि भाग्यशाली नहीं रहा और 185 किग्रा भार उठाने के तीनों प्रयासों में उसे अयोग्य घोषित कर दिया गया। इस तरह से टर्नर को रजत और सुधीर को कांस्य पदक मिल गया।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुधीर कुमार को भारोत्तोलन में कांस्य पदक