DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानव मूल्यों का संदेश लेकर आई ‘मदर एक्सप्रेस’

मदर टेरेसा के बनाए मानव मूल्यों को उनके बाद भी जिंदा रखने के उद्देश्य से मदर एक्सप्रेस बुधवार की सुबह संगमनगरी पहँची। मदर टेरेसा की जन्मशती के उपलक्ष्य में मदर टेरेसा के जीवन और कार्यो से जुड़ी प्रदर्शनी लेकर कोलकाता से 26 अगस्त को चली ट्रेन बुधवार सुबह वाराणसी से इलाहाबाद पहँुची। तीन कोच में लगी प्रदर्शनी को देखने छात्र-छात्रओं के साथ ही शहरियों की भीड़ उमड़ी। प्रदर्शनी ने सभी में समाज सेवा का जज्बा भरा।
ट्रेन बुधवार की सुबह जंक्शन पर प्लेटफार्म एक के बगल सैलून साइडिंग में पहँुची। सुबह तकरीबन साढ़े नौ बजे डीआरएम बीके अग्रवाल ने फीता काट कर प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। मदर टेरेसा के मानव सेवा के मूल्यों से रूबरू होने के लिए स्कूली छात्र-छात्रओं की भीड़ पहले ही पहँुच चुकी थी। प्रदर्शनी का आगाज होते ही रेलवे अफसरों के पीछे दर्शक कतारबद्ध होकर ट्रेन में घुसे। कोच में ममता की मूर्ति के रूप में पहचान बनाने वाली नोबेल पुरस्कार विजेता मदर टेरेसा के विभिन्न चित्र और संदेश लिखे हैं। दजर्न भर से अधिक स्कूल के बच्चाे मदर टेरेसा के मूल्यों से रूबरू हुए। बच्चाों में इसे लेकर काफी उत्साह दिखा। इस दौरान एडीआरएम डीके सिंह, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विजय कुमार सहित सभी शाखा अधिकारी उपस्थित रहे। ट्रेन गुरुवार को भी जंक्शन पर रहेगी। सुबह 9:30 बजे से रात आठ बजे तक प्रदर्शनी का अवलोकन किया जा सकेगा। गुरुवार रात ट्रेन लखनऊ के लिए प्रस्थान करेगी। आठ व नौ अक्तूबर को लखनऊ में रुक कर ट्रेन 10 व 11 अक्तूबर को कानपुर में रहेगी। इसके बाद झाँसी, आगरा व अलीगढ़ का रुख करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मानव मूल्यों का संदेश लेकर आई ‘मदर एक्सप्रेस’