अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निशंक ने मांगा 21200 करोड़ का राहत पैकेज

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से अपने राज्य के लिए 21200 करोड़ रूपए के राहत पैकेज की मांग की है।

डा. निशंक ने प्रधानमंत्री से बुधवार को मुलाकात के बाद यह जानकारी दी। उन्होंने प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुई भारी तबाही से जूझ रहे उत्तराखंड की ताजा स्थिति से अवगत कराने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री पी. चिदंबरम से भी मुलाकात की।

उत्तराखंड राज्य सूचना केंद्र की जारी विज्ञप्ति के अनुसार डा. निशंक ने प्रधानमंत्री से कहा कि राज्य में प्राकृतिक आपदा से पर्वतीय क्षेत्रों में पेयजल, बिजली, सिंचाई, सड़क सहित तमाम बुनियादी सुविधाएं बुरी तरह प्रभावित हुई हैं जिनके लिए केंद्र सरकार से बड़ी मात्रा में तत्काल मदद की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय राहत निधि के वर्तमान मानक बहुत कम व अव्यवहारिक हैं। पर्वतीय क्षेत्र की विषम परिस्थितियों को देखते हुए इन मानकों में बदलाव किया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने भीषण आपदा से निपटने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा तत्कालिक रूप से 500 करोड़ रुपए की सहायता देने के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यद्यपि अभी क्षति का वास्तविक आकलन अंतिम रूप से नहीं हो पाया है फिर भी सामान्य आकलन के अनुसार उत्तराखंड को लगभग 21200 करोड़ रूपए का नुकसान हुआ है। प्रदेश को सामान्य स्थिति में आने में लम्बा समय लगेगा। अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं पर परिवहन व सड़क व्यवस्था को चुस्त दुरूस्त करने के लिए बडे स्तर पर प्रयास किए जाने हैं।

डा. निशंक ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा भेजे गए केन्द्रीय दल ने सभी 13 जिलों का भ्रमण करके नुकसान का जायजा ले लिया है। उत्तराखंड शासन ने भी डिजास्टर रिलीफ मेमोरेण्ड़ा सौंप दिया है। उक्त केंद्रीय दल भी आपदा की तीक्ष्णता व भयावहता से आश्चर्यचकित है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से राज्य में खतरनाक स्थिति में पहुंच चुके 250 गावों के पुनर्वास के लिए वनभूमि उपलब्ध करवाए जाने की भी मांग की।

डा. निशंक ने टिहरी बांध परियोजना में 25 फीसदी हिस्सा उत्तर प्रदेश से उत्तराखंड को दिलवाए जाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि राज्य पुनर्गठन एक्ट के अनुसार जिस राज्य में किसी परियोजना का मुख्यालय होगा, उसी राज्य को परियोजना पर स्वामित्व मिलेगा। इसलिए टिहरी परियोजना में 25 फीसदी हिस्सा जो कि उत्तर प्रदेश का मिल रहा है, उत्तराखंड को हस्तांतरित किए जाने के लिए केंद्र सरकार अपने स्तर पर समुचित कार्यवाही करे।

इससे पूर्व केद्रीय गृह मंत्री पी चिदम्बरम से भेंट कर डा. निशंक ने आपदा राहत के लिए 21200 करोड़ रूपए का पैकेज राज्य को दिए जाने व टिहरी बांध परियोजना में 25 प्रतिशत हिस्सा उत्तर प्रदेश से उत्तराखंड को दिलाए जाने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने कुंभ मेले में केंद्र द्वारा किए गए सहयोग का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कुंभ मेले में केद्रीय बलों की नियुक्ति के एवज में 200 करोड़ रूपए का भुगतान किया जाना है। राज्य की विषम आर्थिक स्थिति व प्राकृतिक आपदा से हुए नुकासान को देखते हुए उक्त भुगतान केंद्र सरकार के स्तर से किया जाए। प्रधानमंत्री व केंद्रीय गृह मंत्री से डा. निशंक की मुलाकात के दौरान राज्य के आपदा राहत मंत्री खजानदास व मुख्य सचिव सुभाष कुमार मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:निशंक ने मांगा 21200 करोड़ का राहत पैकेज