DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीहड़ की दस्यु सुंदरी का बिग बॉस में जलवा

चंबल के बीहड़ों में आतंक का पर्याय रही दस्यु सुंदरी सीमा परिहार इन दिनों टीवी चैनल पर एक अनोखे किरदार में अपना जलवा बिखेर रही हैं। ‘कलर्स’ पर प्रसारित हो रहे रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ में छायी सीमा को पूरा देश रोमांचित होकर देख रहा है। इटावा निवासी सीमा इससे पहले फिल्म ‘वुंडेड’ में अपनी अदाकारी का लोहा मनवा चुकी हैं। इस फिल्म को ऑस्कर के लिए नामित भी किया गया था।  


बीहड़ों में एक दशक तक राज करने वाली सीमा परिहार मूल रूप से इटावा के बिठौली थाना क्षेत्र के गढ़िया अनेठा गाँव निवासी बलवान सिंह परिहार के पुत्र शिरोमणि सिंह की सबसे छोटी पुत्री हैं। बड़ी बहनों की शादी के बाद शिरोमणि सिंह गढ़िया छोड़कर औरैया में अयाना के बबाईन गाँव में बस गए। सीमा जब 13 साल की थी तभी दस्यु लालाराम परिहार ने उनका अपहरण कर लिया था। लालाराम गैंग के जय सिंह की नजर सीमा पर पड़ी तो वह बगावत कर सीमा को लेकर कहीं और रहने लगा। बाद में दस्यु सरगना रामआसरे उर्फ फक्कड़ के कहने पर जय सिंह ने सीमा को निर्भय गुजर्र को सौंप दिया। फक्कड़ ने 5 फरवरी 1999 को बीहड़ के एक मंदिर में सीमा का विवाह निर्भय से करा दिया और खुद कन्यादान किया। बाद में लालाराम ने सीमा को फक्कड़ से छीन अपनी रखैल बना लिया। इस पर फक्कड़ ने निर्भय से अलग होकर खुद का गैंग बनाया। सीमा को लेकर फक्कड़ और निर्भय में गैंगवार भी हुआ। वर्ष 2000 में लालाराम कानपुर देहात (अब रमाबाईनगर) में पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। 2003 में सीमा ने औरैया में एसपी ब्रजेंद्र शर्मा के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। तब सीमा पर अपहरण, लूट आदि के 36 मुकदमे थे। इनमें से 3 को छोड़कर सभी मामलों में वह बरी हो चुकी हैं।  फिलहाल उस पर अजीतमल में एक और औरैया में दो अपहरण के मुकदमे चल रहे हैं। सीमा के आत्मसमर्पण के बाद फिल्म निर्माता कृष्णा मिश्र ने उसे वुंडेड फिल्म में मौका दिया। सीमा के जीवन पर बनी यह फिल्म 2007 में प्रदर्शित हुई और यमुना चंबल क्षेत्र से जुड़े जिलों में जमकर सराही गई। यहाँ तक कि कृष्णा मिश्र ने शूटिंग के लिए सीमा की हाईकोर्ट से जमानत करवाई थी। हाल ही में मुंबई की बायोकॉम 18 मीडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ने रियलिटी शो बिग बॉस के लिए सीमा से संपर्क किया। औरैया के सिनेमाघर के मालिक और टीवी कलाकार राजू चड्ढा उसे लेकर मुंबई गए और आयोजकों के समक्ष इंटरव्यू करवा उसे शो में शामिल करवाया। रविवार को कलर्स चैनल पर जब बिग बॉस का पहला एपिसोड प्रसारित हुआ तो औरैया के लोगों में सीमा को देखने के लिए काफी उत्सुकता थी। सीमा ने भी अनोखे अंदाज में धमाकेदार इंट्री की। सीमा ने लोक भाषा में बीहड़ के अनुभव और बातों का ख्याख्यान किया तो बिग बॉस के घर में मौजूद अन्य कलाकार सहम से गए। सीमा से जब पूछा गया कि बिग बॉस से मिलने वाले रुपयों से वह क्या करेंगी तो बोलीं कि वह अपने बेटे 10 वर्षीय सागर का भविष्य बनाने पर खर्च करेंगी। उन्होंने सागर को डॉक्टर बनाने की इच्छा जताई।
इनसेट...................
लोकसभा चुनाव भी लड़ चुकीं सीमा
औरैया। ‘वुंडेड’ रिलीज होने के बाद सीमा ने राजनीतिक क्षेत्र में भी हाथ आजमाने का प्रयास किया। इंडियन जस्टिस पार्टी के प्रत्याशी के तौर पर 2005 में भदोही लोकसभा क्षेत्र से उपचुनाव लड़ा। बाद में सपा में शामिल हो गईं। इसके बाद रेल आंदोलन में धरना दिया, बिजली समस्या पर नगरवासियों के साथ एसडीओ को चूड़ियाँ पहनाकर सामाजिक उत्तरदायित्व का निर्वहन किया। बिग बॉस में चयन के बाद सीमा ने न सिर्फ कीर्तिमान रचा, बल्कि औरैया व दिबियापुर का नाम पूरे देश में रोशन कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीहड़ की दस्यु सुंदरी का बिग बॉस में जलवा